loading...
loading...

दोस्त की आंटी को नंगा करके चोदा

मेरा एक दोस्त सुन्दर काफ़ी दिन से अपनी एक आंटी को फँसाये था उसे चोदने के लिए जगह खोज रहा था एक दिन मुझसे बोला यार अंकित कोई जुगाड़ कर यार मैने कहा अगर शाम के वक़्त वो आ सके तो में कमरे मे जुगाड़ करवा सकता हूँ रविवार को बाकी दिन तो में कोचिंग पढ़ने जाता हूँ वो बोला बात कर के बताऊंगा.
अगले दिन उसने कहा की आंटी जी रविवार को 8 बजे करीब आ जाएगी में तैयार हो गया रविवार को 8 बजे वो लोग आ गए. में कमरे से चला गया वो लोग चुदाई करते रहे 15 मिनट बाद प्रशांत का फोन आया की आ जाओ काम हो गया में आ गया तो वो आंटी बोली मुझे अपनी e-mail चेक करनी है. मैने अपना कंप्यूटर ऑन कर दिया.

वो सर्च करती रही में उनके बगल मे चेयर डाल के बेठा था. लेकिन उनको कंप्यूटर चलाना नही आता था वो बोली में तो मोबाइल मे चलाती हूँ उन्होने कहा की मुझे चलाना सीखा दो आप मैने अपने हाथ मे माउस लिया तभी उन्होने मेरे हाथ के उपर अपना हाथ रख दिया इस तरह से में सीखाने लगा इधर प्रशांत पिछे से मुझे इशारे कर के कह रहा था की रहने दो.में भी तोड़ा बोर हो रहा था क्युकी उनको कुछ नही आता था लेकिन तभी मेरी नज़र उनके बोब्स की तरफ गई. मैने देखा की साड़ी का पल्लू नीची था ओर ब्लाउस का 1 बटन खुला था गोरे गोरे बोब्स थोड़े खुले थे. मेरा लंड फंनफना गया लेकिन फिर वो जाने के लिए रेडी हो गई लेकिन जाने के पहले वो मेरे www.newhindisexstories.com सामने ही प्रशांत से लिपटने लगी. तब प्रशांत ने कहा आप जाओ अंकित बाइक से छोड़ देगा. मैने उनको बाइक पर बैठाया पतली गलियां सूनी थी रास्ते मे वो अचानक से मुझसे लिपट गई बोली की मुझको देख के आपका मन चंचल हो रहा था.मैने महसूस किया है ये आप उस वक़्त मेरे बारे मे कुछ सोच रहे थे ना तभी उन्होने कहा बस बस यही रोक दो मैने बाइक रोकी वो उतर के मुझसे मेरा मोबाईल नंबर मागने लगी. मैने नंबर दिया रात मे 1 बजे करीब उनका फोन आया वो बोली क्या आप मुझसे मिलना चाहोगे. मैने कहा हा क्यू नही लेकिन प्रशांत को बुरा लगेगा वो बोली तो क्या आप दोनो एक साथ एंजाय नही कर सकते मुझे कोई प्रोब्लम नही है आप बात कर लो मैने साफ मना कर दिया की नही में अकेला ही मिलना चाहूँगा आप तो आज मज़ा ले गई हो तो वो बोली नही यार कुछ नही हो पाया.मैने पूछा क्यू वो बोली प्रशांत तो अंदर ही नही जा पाया बाहर ही डिचार्ज हो गया हम तो सूखे ही लौटे वहा से प्रशांत कह रहा था की कई दिन से नही किया था ज्यादा जोश की वजह से नही कर पाया. मैने कहा ये तो गड़बड़ हो गई अगर में वहा होता तो ऐसा तो कभी ना होता तो अचानक बोली की में कल आ www.newhindisexstories.com सकती हूँ वही 8 बजे मैने कहा हाँ बिल्कुल आपका स्वागत है.अगले दिन शाम को 8 बजने के पहले ही वो आ गई फ़िरोजी कलर की साड़ी पहने सजी धजी एकदम मस्त लग रही थी 50 साल से कम नही थी लेकिन वो 35,36 साल की लग रही थी. मैने गेट लगाया ओर लाइट ऑफ कर दी नाइट बल्ब जलता रहा वो साड़ी उतारने लगी. मैने उनको नंगा करने मे हेल्प की वो ज़्यादा गोरी नही थी लेकिन बहुत सेक्सी लग रही थी उनका जिस्म गठीला था. मैने उनको लेटाया खुद उपर लेट गया ओर चूमना चालू कर दिया बड़े बड़े बोब्स चिकने मैने मूह मे लेकर चूसना शुरू किया वो मस्ती मे आने लगी मेरे लोवर मे हाथ घुसा के मेरे लंड को पकड़ के सहलाने लगी. मैने कहा में कपड़े उतार दू वो बोली हा तो मैने अपने सारे कपड़े उतार दिए मेरा लंड देख के वो मुस्कुरा उठी बोली वाउ यार यह तो बहुत मजेदार है….मैने कहा मुह मे लोगी वो बोली हा क्यू नही मुझे लिटा दिया ओर आंटी ने मेरे लंड को मुह मे भर के चूसने लगी उनके खुले बालो मे में हाथ फेरने लगा तभी उन्होने मेरी तरफ देखा उनकी आँखे लाल थी. एकदम एक पल को वो मुझे एकटक देखती रही साथ मे मेरे लंड को सहलाती रही फिर मैने कॉंडम दिया वो लंड मे लगा दिया वो उठी ओर मेरे दोनो तरफ अपनी टाँगे कर के लंड को चूत मे घिसने लगी ओर सिसकारने लगी इधर मेरी हालत खराब हो रही थी में चाह रहा था की वो अंदर घुसा ले तभी उन्होने लंड को अंदर कर लिया.गीली चूत मे लंड सटाक से अंदर घुस गया तो वो आआआः सीसिसीसीसी आईियायाः बोली ओर मेरे सीने मे दोनो हाथ रख के उचकाने लगी चुदाई मे मज़ा आने लगा था. में उनकी पीठ ओर कुल्हो मे हाथ फेरने लगा वो झुकी ओर मेरे होंठ चूसने लगी वो जितना उचकती उतना ही होंठ चूसती थोड़ी देर बाद वो बोली अब में थक गई हूँ आप उपर आओ.. मैने उनको नीचे लिटा के उनकी चूत मे घुसाता गया एक ही बार मे पूरा लंड अंदर कर दिया वो आ अहहहः अहहा अहहा आहा असीसीसिस सीसीसी सीसिस अहहहहहह कहने लगी. में लगातार चोदने लगा वो मुझसे बोली यार बहुत मज़ा आ रहा आह आ आ मज़ा आ रहा है चोदो चोदो में ये सुन के चोदने मे स्पीड बड़ाने लगा.अचानक www.newhindisexstories.com से वो अकड़ने लगी में समझ गया वो झडने वाली है तभी वो मुझको ज़ोर से पकड़ के लिपटने लगी में बिना रुके लगातार चोदने मे लगा हुआ था वो अंत पड़ने लगी मुझे देखने लगी ओर बस बस आ आ कहती रही.. मेरा भी तभी निकल गया में लिपट गया वो भी मुझसे लिपट गई अभी उनके उपर ही लेटा रहा वो कान मे बोली यार मज़ा आ गया कितना चोदते हो तुम मज़ा आ गया यार कितना अच्छा चोदा आपने लगा पहली बार चुदवाया हो थोड़ी देर बाद हम अलग हुए में हाफ़ रहा था.कुछ देर मे मेरा लंड फिर खड़ा हो गया मैने उनको कहा अब नीचे लेटो ना लेकिन वो बोली नही अब नही में लेट हो गई हूँ काफ़ी टाइम लग गया कल करुँगी इतना कह कर वो तैयार होने लगी. मैने कहा जाने से पहले एक पप्पी दे दो मेरी जान. वो मेरी तरफ देख के www.newhindisexstories.com मुस्कुराई किस दिया. मैने कहा मुझे नही इसे. तो उन्होने लंड को किस किया बोली बहुत मेहनती है ये कितनी मेहनत की आज. फिर वो चली गई रात मे उनका फोन आया बोली यार बहुत मज़ा आया अब तक में जैसी चुदाई चाहती थी वैसी हुई में वादा करती हूँ आपके अलावा में अब किसी के साथ ये नही करूगी मैने उनसे कई बार कहा की गांड मारने दो लेकिन वो गांड नही मरवाती लेकिन जितना है वो ही बहुत है.उसके बाद हम अक्सर मिल लेते है वो उम्र होने के बावजूद भी जवान लड़की की तरह मज़ा देती है तो दोस्तो ये थी मेरी कहानी. friends.. kaisi lagi meri dost ki aunty ki chudai ascha lage to share karo .. agar kisine meri dost ki aunty ki gand mara na chahte ho to add karo Facebook.com/SwatiKumari

1 comments:

loading...
loading...

Chudai,chudai kahani,sex kahani,sex story,xxx story,hindi animal sex story,

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter