loading...
loading...
Home » , , , » दोस्त की माँ की सेक्स का वीडियो बनाया

दोस्त की माँ की सेक्स का वीडियो बनाया

आज मैं आपको अपने दोस्त की माँ की चुदाई के बारे में बता रहा हाउ, कैसे मैंने दोस्त की माँ को चोदा उनका नाम हेमलता है और पिछले 3 सालो से मेरी रखैल. दोस्तों जब कोई औरत अपने को ज्यादा ही हॉट सुन्दर और मॉडर्न दिखने की कोशिश करती है तो मेरे जैसा कोई ना कोई हरामी उसकी इस बेवकूफी का फायेदा उठा लेता है और आगे फिर ना वो मोर्डर्न बनती है ना वो नॉर्मल रहती है बस बिस्तर गरम करने वाली रॅंड बन जाती है.
हेमलता भी एक ऐसी ही महिला है. पति उसका अमेरिका मे है. बेटा प्रतीक जॉब करता है दिल्ली एनसीआर में और ये मेरा बिस्ते गरम करती है. मैं आपको सीधे कहानी पे लेके आता हु. पहले मैं आपको अपने बारे में और उनके परिवार के बारे में बता देती हु,

बात 2015 की है मैने नयी नयी जॉब जाय्न की थी और प्रतीक वही एम् बी ए करने गया. हेमलता मस्त गोरी और हॉट औरत थी. आगे 43 और चूचियां 36सी कमर 36 और गांड 40 की जिससे आप अंदाज़ा लगा सकते है की कितना गदराया माल है साली रॅंड. हेमलता को सोशियल होने का बड़ा शोख था.वो हमेशा अमीर लॅडीस के साथ पार्टी करती. उनके जैसे बर्ताव करती पर अंदर से थी तो साली घरेलू महिला ही थी.मेरी नज़र हेमलता पे हमेशा से थी बस मौका अभी मिला था क्यूकी उसके घर वो अकेले रहती थी.जब भी कोई काम होता वो मुझे बुलाती और मेरे साथ ही जाती. धीरे धीरे हम दोनो काफ़ी फ्रॅंक हो गये थे. क्यूंकी कोई कितना भी मोर्डर्न हो जाए अकेला पन तो रहता ही है और मेरे जैसे हरामी लरके इसी का फायेदा उठाते है. धीरे धीरे अब वो मेरी तरफ आकर्षित होने लगी थी.आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। बाहर लंच करना हो या शॉपिंग या फिर कही आस आ कपल पार्टी मे जाना हो उसे मेरा साथ चाहिए होता था. उपर से जब उसके साथ वाली उससे मेरे बारे मे कहती और उसकी तारीफ करती की यंग लड़के के साथ घूमती है अंडर से वो और मेरी तरफ आकर्षित होती. अब मैं आप लोगो को सीधे चुदाई के दिन लेके चलता हू.हुआ यू की एक दिन मैं और हेमलता चेट कर रहे थे और मैने जानबूझ कर आई लव यू सेंड कर दिया. उसके बाद उसका कोई रिप्लाइ नही आया पर मुझे पता था साली सेट तो हो ही गयी है पेर जो हुआ उसकी भी उमीद नही थी. 15 मीं बाद मेरे फ्लॅट की डोर बेल बाजी और मैं क्या देखता हू हेमलता वहा पे खड़ी है. मैने उसे अंदर बुलाया और.
मैं : सॉरी आंटी.
हेमलता : तुमने मुझे क्या लिखा चेट पे?
मैं : मैं दुबारा ऐसी ग़लती नही करूँगा.
हेमलता : पेर मैं तो चाहती हू तुम हर रोज़ ये ग़लती करो.
और एक कमिनी स्माइल दी साली ने. बस फिर क्या मैने भी साली को दबोच लिया और सीधे उसके रसीले होतो पे टूट पड़ा.वो भी साली मेरा पूरा साथ दे रही थी.
हम दोनो ऐसे एक दूसरे को चूम रहे थे जैसे की कई सालो का ख़ालीपन भरना था. हम ये भी नही पता चला की कब मैने उसकी सारी का पल्लू हटा और उसकी ब्लाउस और ब्रा को फाड़ के अलग किया और कब उसने मेरी टी शर्ट उतरी. 15 20 मीं की इस चुम्मा छाती मे बस “आ आहह मा आअहह आई लव यू आहह आह एम्म ह्म ह्म” यही आवाज़ आ रही थी.
जब हम दोनो अलग हुए तो दोनो का फेस पूरा रेड था और दोनो के ऊपर की बॉडी पे कोई कपडा नही था. फिर मैं हेमलता को बेड रूम मे के गया और बे पे पटक दिया. अब फिर से मैने हेमलता के होठो को खाना स्टार्ट किया और एक हाथ से उसके चूचियां दबा रहा था और दूसरा हाथ उसके पेटिकोट के अंदर से उसकी चूत पे ले गया.
हेमलता : आहह आहह ह्म एक दम से सहम गयी. कई सालो बाद उसके गुप्तांगो को और चूचियों को जोर जोर से मसला था. वो पूरी तरह से मेरे आगोस मे थी और एक बिना पानी की मछली के जैसे तडप रही थी. अब मैने उसकी साडी और पेटिकोट को निकाल के फेक दिया और अब दोनो ही नंगे थे. उसके शरीर पे बस एक मंगलसूत्रा था जो दोनो चूचियां के बीच मे था और जो उसके रंडी. कॅरक्टरलेस होने का सबूत था. मैने अब उसकी चूत मे अपनी दो उंगली डाल दी.आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। हेमलता : अमम्मा आर्राम ससीई. दाअर्रद्द आअहह हूओ रहा हाईईइ आअहह माआ प्ल्ज़्ज़ धीररी प्लज़्ज़्ज़ बाबयी अममाआ. हेमलता को ये ज़रा भी अनुमान नही था की मेरी दो उंगली उसे इतना गरम कर देंगी पेर अब उसे पूर्ण आनंद की प्राप्ति हो रही थी. उसके फेस के भाव ही उसे इतना कामुक बना रहे थे. हेमलता : आअहह आअहह माअज़ा एयेए रर्रााहा हााईइ. उसकी तडप और अंगड़ाई मुझे भी गरम कर रही थी. पेर अभी तो ये आज के दिन की शुरुआत है.
अब मैने अपना मोबाइल निकाला और रिकॉर्डिंग शुरू कर दी.
हेमलता : ये क्या आअहह बंद करो पल्लज़्ज़्ज़. हेमलता बस बोल ही सकती थी क्यूकी अब भी मेरी दो उंगली उसकी गरम चूत मे ही थी. मैने मोबाइल को अच्छे से लगाया ताकि मेरी छीनाल हेमलता आंटी उसके फोकस मे रहे. अब मैने दो की प्लेस पे तीन फिंगर्स डाली.
हेमलता : आआईयईई माआ णिीिककालू प्लज़्ज़्ज़. माऐईइ माअररर जोऊनगगीइ आआईइ माआ आआययईीी आआईयईई आआईयईई माआ प्लज़्ज़्ज़ नाआ माआ नाआ. हेमलता अपने दर्द को बर्दस्त कर रही थी पेर अब वो छटपटा गयी थी और इस तरह का अनुभव उसे पहली बार हुआ था. उसे पता था की उसका वीडियो बन रहा है पेर उसके अंदर भारी वासना इतनी हावी थी की अब उसे किसी से कोई मतलब ना रह गया था.
हेमलता : आअहह आहह आअहह ह्म ह्म माहह आअहह आहह आअहह. पूरे शबाब पेर थी उसका अपने ऊपर से कंट्रोल हट गया था. तभी उसके बेटे प्रतीक का मुझे कॉल आया. मैने कॉल स्पीकर पे किया.
प्रतीक : कैसा है भोसड़ी के
मे : बस मस्त तेरी मा को ही चोद रहा हु
प्रतिक : अबे साले सही सही बता कहा माल मार रहा है?
मैने फिंगरिंग की स्पीड तेज़ करदी क्यूकी हेमलता भी और हॉट होने लगी.
हेमलता : ह्म ह्म म्ह आआहह माआअ
प्रतीक : आबे ये कों है भाई. बजा रहा है क्या किसी को
मे : हा बे है एक आंटी उसे ही बज़ा रहा हू.
प्रतीक : शादीशुदा रंडी सही है भाई लगा रह.
हेमलता : जल्दी चोद मुझे कुत्ते, मेरी चूत गरम हो गई है. डाल जल्दी अपना लैंड मेरी चूत में.
प्रतीक : चल भाई तू लगा रह मैं बाद मे बात करता हू ठोंक साली छिनार रॅंड को और एक पिक मुझे भेज़ डियो साली छीनाल की.
मैं : ठीक है, चुदाई के बाद तुम्हे भी भेज दूंगा.
हेमलता को अब मैने अपने लंड को चूसने को कहा. वो अब मेरे गुलाम की तरह मेरा लोड्‍ा चूस रही थी और मैं उसकी पिक्स के रहा था. थोड़ी देर बाद मैने उसे लेगया अब बारी थी असली प्रोग्राम की मैने हेमलता की गांड के नीचे पिल्लो रखा और उसकी दोनो टाँगे अपने शोल्डर्स पे और लंड को चूत पे लगाया और एक प्यार पेर दमदार धक्का लगाया.
हेमलता : आऐईयइ आआईयइ माआ आआईइ माआ उउउइइ ईईईईईई माआ धीरी धीरी प्लज़्ज़्ज़्ज़ माआ.
हेमलता के मोन्स मुझे गरम कर रहे थे और अब वो धीरे धीरे मेरे लंड का स्वाद अपने यौवन के गुफा मे अच्छे से ले रही थी. उसकी आहे मुझे अपनी मेहनत के फल के रूप के दिख रही थी.
हेमलता : आअहह हााहह माअहह म्ह आहह आअहह ईईईई ल्ल्ल्लूव्ववी उूउउ आअहह ह्म आअहह आअहह आअहह
उसकी वासना अब पूरे चरम पेर थी की तभी मैने अपना लंड उसके यौवन के गुफा से बाहर निकाला.
हेमलता : क्या हुआ रुक क्यू गये ?
मैं : तुर्न अराउंड. कुतिया बनो.
हेमलता तुरंत कुतिया बन गयी. मैने अब पीछे से उसके बाल पकड़े और इस बार अपने पूरे जानवर को जगाया और उसके बाद
हेमलता : आ माआ धीरे ध्ीएरए बाआहुट्त पाऐईिईन्न हूऊ र्रर्राआहह उउउइई माआ उू उईईई माआ बससस्स कार्र्रओ माआ नाअःिोई माआ आआहह अहहाअ. आअहहा अया आहह. और अचानक हम दोनो ही निढाल होके बेड पे फिर गये. नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे ये कहानी आप पढ़ रहे है.
दोनो एसी रूम मे भी पसीने मे तर थे और सासे तेज़ थी. 15 मीं तक मैं और वो ऐसे ही निढाल पड़े रहे. फिर मैं उसके उपर से हटा और उसके बॅक साइड की पिक लेके उसके बेटे को व्हाट्सएप्प की (नोट फेस बॅक साइड ओन्ली).आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। हेमलता जब करवट लेके सीधी हुई तो उसका मंगलसूत्रा उसके लेफ्ट चूचियां के निपल के पास था. बिंदी पिल्लो पे थी और सिंदूर फैला हुआ था. ऐसा लग रहा था की जैसे किसी रॅंड की बरसो की प्यास बुझी हो. वो जब उठ के बातरूम जा रही थी उसकी जाँघ से उसका पानी और मेरे वीर्य का मिक्स्ड रस निकल रहा था. हेमलता के फेस पे एक सॅटिस्फॅक्षन था.
उसके बाद तो दोस्तों मैं अपने दोस्त की माँ हेमलता को तो रखैल बना लिया,अगर कोई मेरी दोस्त की माँ की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/SushmaSharma


1 comments:

loading...
loading...

Chudai,chudai kahani,sex kahani,sex story,xxx story,hindi animal sex story,

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter