फेसबुक पे बहन से दोस्ती फिर होटल में चुदाई

हेलो दोस्तों, आज जो भाई और बहन की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी बहन की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे फेसबुक पे बहन से दोस्ती करके चोदा,कैसे बहन ने मेरा लण्ड चूसा,कैसे बहन ने मुझसे चुदवाये , कैसे बहन को नंगा करके चोदा,बहन की चूचियों को चूसा ,कैसे बहन की चूत चाटी, कैसे बहन को घोड़ी बना के चोदा, कैसे 8 इंच का लण्ड से बहन की चूत फाड़ी,  बहन की गांड मारी , कैसे मेरी बहन की कुंवारी चूत को ठोका । मेरी बहन का उम्र २४ साल है वो मेरे से २ साल बड़ी है, मैं अपने बहन से सेक्स करना चाहता था इस वजह से मैं उसके बदन को निहारता था,

कुंवारी नमकीन चूत चाट चाटकर चुदाई का मज़ा

हेलो दोस्तों, आज जो साली और जीजू की चुदाई कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी कुंवारी साली की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे साली को चोदा होटल में , कैसे साली को नंगा करके चोदा, साली की बूब्स चूसा, कैसे साली की चूत चाटी , कैसे साली को घोड़ी बना के चोदा, कैसे 8 इंच का लण्ड से साली की चूत मारी ,  साली की गांड मारी , कैसे साली की चूचियों को चूसा और खड़े खड़े साली को चोदा । कैसे मेरी साली की कुंवारी चूत को ठोका । मैं अपने सुहागरात मे बीवी के साथ सेक्स किया था जैसे सब लोग कहते है, पर एक चीज़ का मलाल रह गया मेरी वाइफ के बूर से खून नही निकला था तो लगा की वो पहले से चुदी हुई है,

भाई ने अपनी विधवा बहन को रखैल बनाकर चोदा

हेलो दोस्तों, आज जो विधवा बहन की चुदाई की कहानी बताने जा रही हु वो विधवा होने के बाद भाई से मेरी चुदाई की कहानी हैं । आज मैं बताउंगी कैसे भाई ने मुझे अपनी रखैल बनाया , कैसे भाई से चुदवाई,  कैसे भाई से चूत चटवाई, कैसे भाई से गांड मरवाई,  कैसे भाई ने मुझे नंगा करके चोदा, कैसे भाई ने मेरी चूत और गांड दोनों को मारा, कैसे भाई ने मेरी चूत को चाटा, भाई ने मेरी चूचियों को चूसा और कैसे भाई ने मेरी चूत फाड़ दी ।
मैं 35 साल की हु, मेरे पति का देहांत दो साल पहले हो गया है, मेरी ज़िंदगी शादी के बाद भी सही तरह से नहीं चल रहा था क्यों की मेरा पति एक नम्बर का काम चोर और शराबी था, मैं अपने घर में रानी के तरह रही थी,

Pados wali sexy teacher ke sath sex ki kahani

Hello friends.. aaj jo hindi sex ki kahani batane jaa raha hu wo mere pados me rahene wali school teacher ki sex ki stories hai.. aaj main bataunga kaise teacher ki pyasi choot ki khujli mitai, kaise teacher ne mera lund chusa, kaise teache ne mujhse chudwaya,kaise nanga karke teacher ki sexy boobs ko chusa, kaise teacher ki rash bhari choot ko chata, kaise kuttiya bana kar teacher ko choda, kaise 8 inch ka lund se teacher ki choot phadi, kaise teacher ki gand mari, kaise raat bhar teacher ki chudai ki.Mere padosi Mr. Sharma rehte hai. He is a businessmen.Unaki ek mast si wife hai HEENA, jo pass ke ek school main Teacher hai.
Wo subha 8:00 AM per school jati hai aur 1:00 PM per ghar aa jati hai. Phir din bhar ghar main akeli reheti thi.ek din mara holiday wala din tha toh main aaram se so raha thaa mom neh mujhe jagaya or bola ki door
lock kar lo main office ja rahi hun main neh uth kar door lock kiya or phir soo gaya karib 30 min baad phir door bell baji.

Sex ki bhukhi do ladkiyon ne ek ladke ko rape kiya

Dosto aaj jo hindi rape sex story batane jaa raha hu wo meri rape hone ki story hai.. aaj main bataunga kaise do ladkiyon ne mujhe rape ki,kaise mera lund ko chusa, kaise nangi ho ke mere lund chut me liya, kaise mujhe zabardasti choot chatwaya, kaise mujhse chudi,kaise sex ki bhukhi to ladkiyon ne mere lund se masti ki, kaise raat bhar mera lund ko chus chus ke khada karke chudi.Ek din main college se wapsi par bus k intzar main stop par khara tha kuch dair main ik car aa kar mery pass ruki jis main ik bueatyfull leady thi
jis ki age 24 ho gi or mujh se aik adrees pochne lagi meny use aderess bata dia to us par kehny lagi k ap ne kahan jana he meny apny area ka name bata dia to kehny lagi mene wahin se guzarna he agaer ap chaho to
main ap ko drop kar sakti hon meny kaha ok or us ka sath bheth gia

Air hostess ke sath hot sex story hindi

Hello friends.. aaj jo hindi sex stories batane jaa raha hu wo ek sexy air hostess ke sath sex ki hai.. aaj main bataunga kaise air hostess ko choda, kaise nanga karke air hostess ki choot ko chata, kaise air hostess ki boobs ko chusa, kaise ghodi bana kar air hostess ko choda, kaise 8 inch ka lund se air hostess ki chut phadi, kaise air hostess ki gand mari, kaise raat bhar air hostess ki chut aur gand mari,ye ek sacchi hindi sex story hai.Main south delhi me study karta hoo....ek din me apne instture ja raha tha ..aur me fm sun raha tha apne mobile par..ki achanak ek ladki se meri takkar ho gai...tu uski books sari gir gai...tu mene usko dekha tu dekhta hi reh gaya...wo bahut beautiful dikh rahi thi..tu mene uski books uthane me help kari aur usse sorry bula tu ussne bhi mujhe sorry kaha...aur wo muskurai aur chali gai...

Class room me group chudai ki kahani

Hello friends.. aaj jo hindi group chudai ki kahani batane jaa raha hu wo meri classmate aur teacher ki group chudai ki story hai.. aaj main bataunga kaise classmate ko choda class room me, kaise nanga karke choot ko chata, kaise teacher ki boobs ko chusa, kaise gand mari, kaise kuttiya ki tarha choda, kaise chod chod ke choot faad diya, kaise sab milkar choda teacher ko.Yeh aaj se 1 saal pehlay ki baat he jab mein B.Com final year mein padhta tha. Hamare college mein bohat ladkian padhti thee aur hamare class me bhi kaafi ladkian thee. Lekin unn mein do 2 ladkian aisee thee k jin ko dekh ker mera land khada ho jata tha aur mein sirf unki taraf dekhta rehta tha. Aik ka naam sareena tha aur dusri Anee.

खेत मे नंगा करके गाँव की भाभी को चोदा

हेलो दोस्तों, आज जो देवर और भाभी की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी भाभी की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे भाभी को चोदा,कैसे भाभी ने मेरा लण्ड चूसा,कैसे भाभी ने मुझसे चुदवाये , कैसे भाभी को नंगा करके चोदा, भाभी की चूचियों को चूसा ,कैसे भाभी की चूत चाटी, कैसे भाभी को घोड़ी बना के चोदा, कैसे 8 इंच का लण्ड से भाभी की चूत फाड़ी,  भाभी की गांड मारी , और खड़े खड़े भाभी को चोदा । कैसे मेरी भाभी की चूत को ठोका ।बात उन दिनों की है जब मैं गाँव में रहता था, उस समय मेरी पड़ोस में एक नयी नहीं शादी हुई थी रिश्ते में वो भाई लगता था नाम था कौशल, शादी के कुछ दिन बाद यानी की ५ दिन बाद ही वो अपने काम पे यानी की दिल्ली लौट आया था! उनके घर में सिर्फ कौशल भैया की माँ और वाइफ ही रहने लगी थी.

अपने पापा से चुदवाई और चूत की प्यास बुझाई

हेलो दोस्तों, आज जो बाप और बेटी की चुदाई कहानी बताने जा रही हु वो मेरी पापा से चुदाई की कहानी हैं । आज मैं बताउंगी कैसे पापा से चुदवाई,  कैसे पापा से चूत चटवाई, कैसे पापा से गांड मरवाई,  कैसे पापा ने मुझे नंगा करके चोदा, कैसे पापा ने मेरी चूत और गांड दोनों को मारा, कैसे पापा ने मेरी चूत को चाटा, पापा ने मेरी चूचियों को चूसा और कैसे पापा ने मेरी चूत फाड़ दी । मेरा नाम पूजा है और मेरी उमर 19 साल है.मई देवरिया उत्तर प्रदेश की रहनेवाली हू.मई सावली हू पर मेरा बदन बहोट सेक्सी है.बड़े बड़े बूब्स और तीखे नैन नक्श.मेरे पापा जिनका की नाम राधेश्याम है.वो 1 स्कूल मे टीचर हैं.

नंगी होके चूत दिखा कर भाभी ने मुझे चुदने को कहा

हेलो दोस्तों, आज जो भाभी को चोदने की कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी भाभी की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे भाभी को चोदा , कैसे भाभी ने मेरा लण्ड चूसा, कैसे भाभी ने मुझसे चुदवाये , कैसे भाभी को नंगा करके चोदा, भाभी की चूचियों को चूसा ,कैसे भाभी की चूत चाटी, कैसे भाभी को घोड़ी बना के चोदा, कैसे 8 इंच का लण्ड से भाभी की चूत फाड़ी,  भाभी की गांड मारी , और खड़े खड़े भाभी को चोदा । कैसे मेरी भाभी की प्यासी चूत को ठोका । एक बार मेरी बहन ने कहा कि क्या कर रहे हो रवि कुछ नही भाभी बस तैयार हो रहा हू कॉलेज जाना है, क्या शीतल के लिए तैयार हो रहे हो नही भाभी, मैं तो बस कॉलेज के लिए तैयार हो रहा हू, शीतल तो अपना घर गयी है, मैं ही उसे ट्रेन पे छोड़ के आया हू. कभी मेरे लिए भी तैयार हो जाया करो क्या मैं सेक्सी नही हू? अभी २८ साल की हू लेकिन १८ से कम नही हू क्यूँ भाभी आप मज़ाक कर रहे हो,

भाभी की चुदाई
नंगी होके चूत दिखा कर भाभी ने मुझे चुदने को कहा
नही रवि मैं मज़ाक नही कर रही हू आज मैं तुमसे एक बात बताना चाह रही हू, तुम्हारे भैया नपुंश्क है, आज तीन साल हो गये शादी के लेकिन मैं अभी भी कुवारी हूँ | ये सुनकर मैं अवाक रहा गया ये क्या कह रहे हो भाभी हा रवि सच कह रही हू, मेरी तो ज़िंदगी खराब हो गयी है| मेरी जवानी मे तो जंग लग रहा है जैसे लोहा पानी मे रहकर खराब हो जाता है वैसे बिना सेक्स के मेरी ज़िंदगी नर्क हो रही है सारे अरमान और सपने तार तार हो गया है| ये बात मैं और किसी से कह नही सकती ये बात तो सास या ननद से किया जाता है लेकिन मेरे नसीब मे सास ननद भी नही है, उतराखंड की तबाही मे सास ससूर ननद को भगवान ने बुला लिया है| अब तो तुम ही सब कुच्छ हो| इतना कहते ही भाभी रोने लगी और मैं चुप करा के फिर कॉलेज चला गया| शाम को घर आया तो दरबाजे पे ही भैया मिल गया रवि, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मौसी जी की तवियत ठीक नही है वो हॉस्पिटल मे है, मौसा जी का जी कह रहे थे की मैं आज हॉस्पिटल मे ही रहू क्यूँ की मौसा जी तीन दिन से सोए नही है क्यो की वो रात भर हॉस्पिटल मे जागे रहे आज मौसी की तबीयत ठीक है इसलिए मैं ही रहूँगा ठीक है भैया, और हाथ मूह धोकर मैं भाभी से चाय बनाने के लिए कहा, थोड़ी देर मे भाभी चाय बना के ले आई और दोनो साथ बैठकर चाय पी और टीवी देखी, फिर रमेश मेरा फ्रेंड बाईक लेके आ गया रवि चलना है क्रिकेट खेलने मैने हा कह दिया और दोनो चल दिए|

रात के करीब ८ बजे भाभी का फोन आया रमेश ने फोन उठाया रवि कहा है भाभी रवि यही है ज़रा सा छाती पे क्रिकेट का बाल लग गया था क्लिनिक आया हू, ३० मिनट मे घर आ रहा हू मैं करीब ८.३० पे घर पहुचा तो भाभी इंतज़ार कर रही थी क्यों की वो घबरा गई थी चोट सुनकर, क्या हुआ रवि कहा चोट लगा दिखाओ मैने अपना कमीज़ खोलकर दिखा दी, अरे बाप रे क्या बात है रवि आपने मेरे से छुपाई कितना सूजन आ गया है छाती पे, चलो आराम पहले खाना खा को फिर आराम करना, मैं गरम तेल की मालिश कर दूँगी, भाभी उस दिन बहुत ही हॉट लग रही थी, क्यूँ की मैने पहला दिन था जो की शाम को मैने भाभी की तैयार देखा था, वो लाल लाल नाइट सूट मे मस्त दिख रही थी. हम दोनो खाना भैया को फोन किए और मौसी का हाल चाल लिया, मैं जल्दी ही सोने चला गया, रवि लाइट मत बंद करना मैं आ रही हू तेल गरम कर रही हू, सरसो तेल का मालिश कर दूँगी, मैने कहा नही भाभी आप सिर्फ़ तेल गरम कर दो मैं खुद लगा लूँगा. इतना कहकर में बेड पे लेट गया, भाभी १० मे गरम तेल लेके आ गयी, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। और लगाने का ज़िद करने लगी मैं कहा भाभी मैं लगा लूँगा प्लीज़ आप छोड़ दो भाभी ने कहा अगर आज आपकी मा होती तो आप भी यही कहते, मैं भाभी हू कोई बात नही, कुच्छ नही करूँगी ;हसते हुए तिरछी नज़र से देखी और बेड पे बैठ के तेल लगाने लगी, ;हटाओ शर्ट मैने शर्ट खोल के अलग कर दिया वो मालिश करने लगी, उनका हाथ मेरे छाती पे पड़ते ही आजीव सा सिहरन होने लगा,

उस दिन वो बड़ी मस्त दिख रही थी, उनका बड़ा बड़ा चूच आज साफ दिख रहा था, क्यों की ब्रा नही पहनी थी, और उनका गाड़ भी बॅया हॉट था, पतली कमर लेकिन गाड़ काफ़ी चौड़ा था, वो मस्त लग रही थी, मेरा लंड कड़ा होने लगा, अब तो मुझे लगा की, ये ग़लत हो जाएगा मैं भाभी का हाथ पकड़ लिया और कहा भाभी छोड़ दो प्लीज़ क्यों की हमे अच्छा नही नही लग रहा है भाभी बोली : हमे तो अच्छा लग रहा है, आज पहली बार ऐसा लग रहा है की किसी मर्द के पास हू मैं भाभी का इशारा समझ गया, मैने सोचा भाभी तो आज चूदबा के ही छोड़ेगी मैं पीछे क्यूँ हटु इसमे बुराई भी नही नही अगर मैने कुच्छ नही किया तो सेक्स का भूख कही और मिटाएगी अच्छा है घर का माल घर मे ही रह जाए, उसके बाद मैने छेड़ना शुरू किया| आज बड़ी मस्त लग रही हो, झूठा तुम्हे क्या दिख गया है? आज आपका शरीर बिना दिखाए ही दिख रहा है तो?????????????? क्या इरादा है? सुहाग रात मनाए मैं कह दिया हा वो इतना कहते ही मेरा हाथ चूम ली मैने भी उनका हाथ पकड़कर तोड़ा खीचकर उनके गाल पे एक किस कर लिया और चुम्मा का शुरआत हो गया कभी वो कभी मैं, धीरे धीरे मैं भाभी का गोल गोल चुची दबाने लगा और वो मेरा लंड पकड़ने लगी. आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। रवि आज मुझे औरत बना दो आज तक मैं लड़की थी, और वो दोनो डटो के नीचे अपना लीप दबाने लगी मैं भी इस अवतार को देखकर मेरा लंड सातवे आसमान पे था और वो मेरा जौघिया खोलकर मेरा लंड चूसने लगी,

मेरा तो लंड टंकार खड़ा हो गया भाभी ने अपना कपड़ा उतार दी ओह माई गॉड मैंने जैसा सोचा उससे ज़्यादा सेक्शी लग रही थी, सुडोल चूच कसा हुआ गोरा बदन, कांख के नीच बाल, होठ गुलाबी तो पागल होने लगा रवि क्या लंड है तुम्हारा आईस क्रीम भी फेल है और भाभी आपका बदन तो संग मरमर का लग रहा है. तो कोई बात नही मेरे राजा इश्स बदन पे तुम्हारा ही अधिकार है मैं उनको बहो मे ले लिया भाभी की तनी हुई चुचि मेरे छाती मे सॅट रहा था और वो सिसक रही थी, आआआआआ उक्कककककक प्यास बुझा दो रवि चोद दो प्लीज़, मेरे बूर को आज आबाद कर कर दो. मैंने नीचे लिटा के दोनो पैरो को उपर कर के बूर के उपर लूँ रखकर मैं कस के धक्का मारा और मेरा लंड उनके बुवर मे दाखिल हो गया वो दर्द से करहने लगी और कहने लगी मार दिया मेरी जान मैने धीरे धीरे चोदने लगा, भाभी भी धीरे धीरे अपना .चूतड़ उठा उठा के चोदबाने लगी, मैने भी खूब चोदा रात और ४० मिनट बाद मेरा वीर्य भाभी के बूर मे चला गया और वो शांत हो गयी हम दोनो करीब १५ मिनट तक शांत लेटे रहे फिर दोनो बात चीत करने लगे, मैने रात भर भाभी की चुदाई की, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। और सुबह करीब १० बजे उठा, मैने कहा की भाभी ये सब बात भैया की चिंता ना कर तुम्हारे भैया ने ही चोदबाने के लिए कहा की घर का माल घर मे ही रह जाए अब तो मैं भाभी को रोज चोदता हू, जिसका साथ भैया भी दे रहा है.कैसी लगी भाभी की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी भाभी की प्यासी चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/Lund ki pyasi bhabhi

नंगा करके भाभी की चूत से मस्ती और चुदाई

हेलो दोस्तों, आज जो देवर और भाभी की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी भाभी की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे भाभी को चोदा,कैसे भाभी ने मेरा लण्ड चूसा,कैसे भाभी ने मुझसे चुदवाये , कैसे भाभी को नंगा करके चोदा,भाभी की चूचियों को चूसा ,कैसे भाभी की चूत चाटी, कैसे भाभी को घोड़ी बना के चोदा, कैसे 8 इंच का लण्ड से भाभी की चूत मारी,  भाभी की गांड मारी , और खड़े खड़े भाभी को चोदा । कैसे मेरी भाभी की चूत को ठोका । बात है पिछले साल की, जब भाभी की चुदाई की रात भर हॉट डांस किया उनके साथ और खूब दारु पि, क्या दिन था यार, अभी भी याद करता हु तो बस मूठ मारने के अलावा कुछ भी नहीं होता है, लंड मेरा तन जाता है, कुछ भी नहीं कर पात हु बस सोंट देता हु लौड़ा को और गिरा देता हु बाथरूम में.

भाभी की चुदाई
नंगा करके भाभी की चूत से मस्ती और चुदाई
मेरी भाभी बहुत ही ओपन ख्यालात की है, हमेशा वो हॉस्टल में रही है, बिंदास घुमी है, बहुत मजे करी ज़िंदगी में जैसा की उन्होंने मुझे बताया है, उसके उलट मेरा भाई जो की एक कॉलेज में प्रोफेसर है, सीधा सादा कुरता पायजामा पहनने बाला, पैर में चप्पल, उच्च विचार और सादा खाना, शराब दारू से तौबा, फिल्म में रूचि नहीं होना और हमेशा आदर्शवाद बाली बात करना, शुरू शुरू में तो भाभी थोड़ा घुलने मिलने की कोशिश की पर कौन कितना दिन तक अपनी आत्मा को दबा सकता है, एक दिन सब कुछ खत्म करके वो पुरानी ज़िंदगी को फिर से जीना चाहने लगी, मैं आपको पूरी कहानी बताता हु ये सब कैसे हुआ.एक दिन की बात है मेरा भैया मम्मी पापा तीनो कही तीर्थ पर गए थे, क्यों की पापा और माँ की हार्दिक इच्छा थी की बड़ा बेटा मुझे कही घुमा के लाये, मैंने तो मना कर दिया, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। भाभी बोली की मेरा एम फिल का पेपर है मैं भी नहीं जाउंगी, तो घर में मैं और मेरी भाभी दोनों ही थे, हां सॉरी दोस्त पहले तो मैे अपने भाभी के बारे में तो बता दू. भाभी का नाम रूचि है, भैया के शादी को हुए ३ साल हुए है, जैसा की मैंने पहले ही आपको बताया था की भाभी बड़े ही मॉडर्न है और आज़ाद ख्याल की है. तो अभी तक उन्होंने कोई बच्चा नहीं किया, क्यों की वो लाइफ को एन्जॉय करना चाहती ही, पर उसका हसबैंड ही साथ नहीं देता है, रूचि भाभी बड़ी ही हॉट है, उनके बूब्स की साइज ३४ है, बदन स्लिम, गांड गोल गोल, गोरी चिट्टी, गजब की आँखे, होठ तो ऐसे रसीले की बिना लिपस्टिक लगाये ही,

लाल लाल लगता है, क्या बताऊँ यार, ओह्ह्ह्ह याद आ गई है और मेरा लंड खड़ा हो गया है, तो घर पर मैं और भाभी ही थी, शाम को हमलोग छत पर टहल रहे थे और बातचीत कर रहे थे, तो मैंने पूछा भाभी मुझे आप एक बात बताओ, क्या आप भैया से बोर नहीं होते हो, आप इतने मॉडर्न और भैया एक डैम सीधे सादे, तो भाभी बोली क्या करू देवर जी जो किस्मत में है उससे कौन टाल सकता है, पता है जब मै अपने सपने को सोचती हु जो मैं कुंवारी में सोचती थी, वो सब खत्म हो गया, मैंने पूछा आप क्या सपने देखती थी, तो वो बताने लगी, मैंने सोचती थी जी मेरा हस्बैंड बहुत ही रोमांटिक होगा, शाम को कैंडल लाइट डिनर करेंगे, शाम को थोड़ा थोड़ा रम पीकर, बाल खोलकर, धीरे धीरे एक दूसरे के बाहों में बाहें डाल कर डांस करेंगे. खूब मौज मस्ती करेंगे, पर हस्बैंड ऐसा मिला की क्या बताऊँ, काश ये सब सपने एक दिन के लिए भी सच हो जाये तो मैं सोचूंगी की मेरा व्रत सफल हो गया.मैंने कहा क्या मैं आपकी मदद कर सकती हु, अगर आप चाहो तो मुझे जब तक भैया नहीं है मुझे पति बना लो, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। आपकी साड़ी ख्वाइश पूरी कर दूंगा, तो भाभी बोली अगर ये बात भैया को या तो मम्मी पापा को पता चल गया तो, पता है मैं कही की नहीं रहूंगी, मैंने कहा गॉड प्रोमिस भाभी मैंने नहीं बताऊंगा, तो भाभी बोली पक्का मैंने कहा हां पक्का, फिर क्या था नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम के दोस्तों मैं तो पागल हो गया, मेरी साँसे तेज हो गई थी, क्यों की आज तक मैंने कभी भी सेक्स नहीं किया था.

मुझे लगा की पता नहीं क्या मिल गया है, ओह्ह्ह हम दोनों फटा फट निचे आये और मैंने भाभी से कहा बोलो भाभी, पहले हम दोनों पार्टी करेंगे फिर हमलोगो पूरी रात अपने रात को रंगीन करेंगे.मैंने तुरंत बाइक उठाया और बाजार गया, होटल से बढ़िया सा चिकन तंदूरी और रुमाली रोटी, हुक्का किराये पर लाया, व्हिस्की, सोडा, नमकीन और सिगरेट ले के आया, जब मैं घर पंहुचा तो हैरान हो गया भाभी पिंक कलर की नाईटी में थी वो भी कंधे पर एक हलकी सी डोरी लटक रही थी, पूरा कंधा गर्दन और बूब के ऊपर का पार्ट खुला था, अंदर वो ब्रा भी नहीं पहनी थी, इस वजह से उनके निप्पल बाहर दिख रहे थे, बाल खोल हुई थी, गजब का डिओड्रेंट लगा राखी थी, होठ लाल लाल कलर की हुयी थी, क्या बताऊँ दोस्तों मैंने तो बेहोश होने भी बाला था, की भाभी बोली क्यों राजा अभी ये हाल है जब मैं ये नाईटी उतारूंगी तो क्या होगा? आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैंने कहा भाभी हां सही बात एक मिनट के लिए तो मैं सही में कोमा में चला गया था, फिर भाभी बोली आओ जल्दी पहले डिनर करते है.घर की लाइट बुझा दी, सारे खिड़की दरवाजा बंद कर दिया, टेबल पर एक बड़ा सा मोमबती और बैडरूम में बड़ा मोटा मोमबती जलाई, गुलाब का इत्र छिड़का, फिर म्यूजिक सिस्टम में धीरे धीर से रोमांटिक गाना लगा दी भाभी फिर हम दोनों खाना खाने लगे और पिने लगे, भाभी ही पेग बना रही थी, फिर वो सिगरेट जलाई और और फिर एक मुझे भी दी खुद ही जला कर, सिगरेट में उनकी लिपस्टिक लगी हुई थी,

क्या बताऊँ यारों जब वो अपना दोनों हाथ सोफे के ऊपर रखी और गजब की माल दिखने लगी, फिर वो मुझे इसारे से अपने पास बुलाई, जब की मैं वही था, पर वो मुझे अपने करीब बुलाई और मुझे किश करने लगी, डीप किश वो अपना जीभ मेरे मुह में घुसाने लगी होठ को चूसने लगी, मेरा तो लंड खड़ा हो गया, फिर मैंने उनके गालो में गर्दन पे फिर बूब को हाथ में लेके प्रेस करने लगा, फिर भाबी पेग बनाई, फिर दोनों पिए और फिर किश करने लगे.थोड़े देर में ही भाभी काफी सेक्सी हो गई और मैंने भी, मैंने भाभी को बैडरूम में ले गया और नाईटी उतार दी, फिर क्या था मैंने भाभी के शरीर को पूरी तरह से चूमा चूत चाटा, बूब दबाया फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए, भाभी मेरा लंड चूस रही थी और मैं भाभी की चूत, फिर भाभी बोली अब बर्दास्त नहीं हो रहा है, अपना लंड मेरे चूत में डालो, फिर मैंने भाभी को चोदना सुरु कर दिया, खूब चोदा भाभी को, करीब एक घंटे तक चोदने के बाद हम दोनों झड़ गए, और फिर थोड़े देर तक ऐसे ही पड़े रहे, उसके बाद उठ कर म्यूजिक पे दोनों डांस करने लगे, बाहों में बाहों डाल के, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर भाभी नंगी होकर भी डांस की, वो पोल डांस की, फिर हम दोनों डांस किये, फिर दोनों चुदाई करने लगे, पूरी रात यही सब चलता रहा. तीन दिन तक हम दोनों दिन में सोते थे और रात रात भर रंगरेलियां मनाते थे. फिर मैं अमेरिका आ गया अब तो सिर्फ भाभी की याद ही है.कैसी लगी हम डॉनो देवर और भाभी की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी भाभी की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/AkeliBhabhi

मां बनने के लिए अपने सगे भाई से चुदवाई

हेलो फ्रेंड्स, आज जो भाई और बहन की चुदाई कहानी बताने जा रही हु वो मेरी भाई से चुदाई की कहानी हैं । आज मैं बताउंगी कैसे भाई से चुदवाई,  कैसे भाई से चूत चटवाई,  कैसे भाई से गांड मरवाई,  कैसे भाई ने मुझे नंगा करके चोदा, कैसे भाई ने मेरी चूत और गांड दोनों को मारा, कैसे भाई ने मेरी चूत को चाटा, छोटे भाई ने मेरी चूचियों को चूसा और कैसे भाई ने मुझे गर्भवती बनाया . मेरा नाम कृति है, मैं एक मध्यम परिवार से आती हु, ऐसे मैं बरेली की रहने बाली हु पर, ग़ज़िआबाद में रहती हु, मेरी उम्र 23 साल है, मेरी शादी को हुए ३ साल हो गए है, पर मुझे कोई बच्चा नहीं हुआ था, दो साल तक मैं इलाज करवाती रही, मेरे पति ज्यादा होशियार नहीं है करोडो की सम्पति है, पर वो मंदबुद्धि है, मेरे पति का लंड खड़ा नहीं होता है,

Chachi aur chacheri behan ki chudai ki sex kahani

Dosto aaj jo hindi sex kahani batane jaa raha hu wo ek hindi group sex ki kahani hai.. aaj main bataunga kaise chachi aur chacheri behan ko choda, kaise chachi ki gand mari aur chacheri behan ki choot, kaise ek sath maa aur beti ko choda, kaise chachi aur chacheri behan ko nanga karke choda ek sath, kaise maa aur beti ek sath chudi, kaise chachi ne beti ko chudwaya apni saasur se,ye ek sacchi chudai ki kahani hai.Meri chacheri behan ka naam Komal hai. Uski umar bees saal ki hai. Komal ko dekh ker koi bhi kah sakta hai ki uska naam uske liye bilkul hi suit karta hai. Uska rang gora aur hight five feet six inch hai. Chehra itna sundar hai ki dekhne ke baad har koi apne dil me basaana chahta hai. Aur doosra aadmi jiske baare mein aage bataoonga. Ab main apko us din ki ghatna ki taraf le chalta hoon. Main unn dino apne ghar gaya hua tha.

hindi group sex story
Chachi aur chacheri behan ki chudai ki sex kahani
Us samay mere ghar per meri Chachi aur cousin aur ek old man jise hum Tau kah ke bulate hai. Ghar mein inke alawa aur koi nahi tha. Tauji koi mere chachi ke peehar ka rishtedaar hai. Woh kabhi-kabhi meri chachi se milne chala aata hai. Aas paas waale her tarah ki baat udate rahte the. Lekin mera inme koi vishwash nahi tha. Lekin us din ki ghatna ke baad jaa kar hi mera vishwaas hua. Us din dopahar mein maine dekha ki meri Chachi jinki umar chalis saal ki hai chaat par ek room me soyi huyi thi. Main wahin paas ke room me leta hua tha. Tauji mere room me aye aur mujhe dekha aur Chachi ke room ki taraf chale gaye. Shayad unhone samajha ki main so raha hoon. Room mein jaane ke baad jaise hi unhone darwaja band kiya maine darwaje ki awaaj ko sun ker samajh gaya ki aaj kuchh gadbad hone wali hai. Maine socha ki kyo na dekha jaaye. Main uth ker us kamare ki window par gaya aur andar jhanka to dekha ki jaise hi Tauji Chachi ke paas jaake baithe Chachi sidhi ho gayi aur boli, Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. "Aap aa gaye?" Tauji ne kaha, "Haan main aa gaya." Tab Chachi ne puchha, "Komal kaha hai?" Tauji ne bataya, "Woh niche so rahi hai." Ab Tauji ne Chachi ke pair par apna haath pherna shuru kar diya aur dhire-dhire Chachi ke kapado ko upar uthana shuru kar diya. Chachi dhimi-dhimi muskara rahi thi. Tauji ne jaise hi Chachi ki sari aur saaya ko kamar tak uthaya to Chachi ki choot dikhne lagi. Chachi saaya ke neeche koi undergarment nahi pahan kar rakha tha. Tauji Chachi ki choot ko dekh ker bole, "Wah kya jism paya hai tumne." Phir Tauji apni angooliyon se Chachi ke komal balo ko sahlaane lage. Chachi ne apni ankhein band kar li aur apne hathon ko Tauji ki lungi ke andar daal diya aur tauji ke lund ko bahar nikal ke use sahlane lagi. Ab Tauji ne apne hath ko wahan se hata liya aur Chachi ne bhi apne hath ko hata liya.

Ab Tauji ne Chachi ki janghon ko jo bilkul hi ek dusre se sati huyi thi ko thoda sa failaya aur apne muhn se thoda sa thuk nikal ker Chachi ki choot pe ragad diya. Iske baad Tauji Chachi ki janghon per baith gaye aur apne lund ko ek hath se pakad ke jaise hi Chachi ki choot pe lagaya Chachi ne apne dono hatho se choot ko phaila ke Tauji ke lund ko apni choot ka rasta dikha diya. Ab Tauji ne lund ko Chachi ki choot ke chhed per rakh ker jorse kamar ko jhatka diya aur Chachi ke muh se "aaahhhhhhh" ki awaaj nikal gayi. Maine dekha ki tauji ka lund Chachi ki choot me chala gaya tha. Ab Tauji Chachi ke upar let gaye aur dhire-dhire apne kamar ko hilane lage. Chachi unke her jhatke ke saath tej saase le rahi thi. Iss tarah se kuchh der tak Tauji Chachi ki chudai karte rahe. Lagbhag pandrah minute ke baad Tauji Chachi se bole, "Komal ab jawan ho gayi hai" aur jor se ek jhatka mara Chachi ko. Chachi jhatke khati huyi boli, "Haaaaaaaannnnn." Tab Tauji ne kaha, "Aaj raat mein main uski chudaai karunga tum use bhej dena." Chachi ne apni gardan hila ke haami bhari. Ab Tauji ka pura lund Chachi ki choot mein andar tak jaa kar bahar nikal raha tha. Tauji kas-kas kar dhakke maar rahe the. Chachi bhi dhakko ka jawab apne gand utha-utha kar de rahi thi. Ab Tauji ne Chachi ke hoton ko choosna shuru ker diya aur dhakkon ki speed badha di. Tauji ke muhn se siskariyan nikalne lag gayi tab main samajh gaya ki Tauji ka garam sperm Chachi ki choot mein girne wala hai. Kuchh der ke baad Chachi bhi apne kamar ko utha utha apni tangein Tauji ki kamar se lipta li aur Tauji ka pura saath dene lagi aur ye daur paach minute tak chala. Iske baad dono log shaant pad gaye to main samajh gaya ki ab Tauji ka fawwara Chachi ki choot me chhoot gaya hai. Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. Yeh dekhkar main apne room me chala gaya aur so gaya. Raat ke samay Chachi ne khaana banaya aur Komal ne mujhe aur Tauji ko khaana khilaya.

Khaana khate samay maine dekha ki Tauji ki najar maximum time khaana per kam Komal ke uper jyada thi. Khaana dene ke liye jaise hi woh niche jhukti thi to Tauji uske boobs ko dekhte rahte the. Khaana khane ke baad main apne room me upar chala gaya. Jaise hi Tauje uper jaane ke liye tayyar huye to unhone Komal se ek lote me paani aur tel ke dabbe ko unke kamre me laane ke liye kaha. Komal ne kaha, "Theek hai Tauji main leke upar pahuncha dungi." Khaana khaane ke baad Komal ek lote me paani leke aur dabbe me tel leke jaise hi Tauji ke paas jaane lagi toh Chachi ne Komal se kaha, "Dekho woh tumhare baap ke samaan hai aur dusre ghar ke hoke bhi pure din hamare kheto me dekh rekh karte hai. Unko puchh ke tum unke badan mein tel laga dena." Komal ne kaha, "Theek hai Chachi." Idhar Tauji uska intezar kar rahe the. Jaise hi woh room me pahunchi toh Tauji ne usse kaha, "Rakh do." Komal ne poochha, "Tauji kya main apke badan per maalish kar du." Tauji ne kaha, "Haan. Achha hi hoga agar kar deti ho toh." Komal boli, "Theek hai main kar deti hoon." Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. Aur Komal ab darwaaja ko sata ker Tauji ki bagal me baith gayi. Tauji ne pahle use apne tangoin per tel lagane ke liye bola. Jab usne tangoin per tel laga diya to hathon mein tel lagane ke liye bola. Hath me tel lagane ke baad Tauji ne peeth aur kamar mein tel lagwaya.iske baad apne sir per tel lagwaya. Jab pure badan me tel lag gaya to Tauji ne Komal ka hath pakad ker apne lund ko pakadate huye kaha, "Jab pure badan mein tel laga diya hai to isper bhi tel laga de." Komal ne apna hath waha se hata liya. Tauji ne dobara uske hath ko pakada aur apna lund pakda diya aur upar niche hilane lage. Ab woh uth ker baith gaye aur Komal ko bed per patak diya. Bed per patkne ke baad ek hi jhatke me unhone Komal ki skirt aur painti ko utar diya. Ab unhone Komal ko ulta leta diya. Komal ki gaand saaf dikh rahi thi. Komal waise to virodh kar rahi thi lekin uska asar kuchh bhi nahi pad raha tha Tauji per.

Ab Tauji ne dabbe se tel nikal ker Komal ki gaand me daal diya aur Komal ki janghon per baith gaye. Ab unhone apne lund ko Komal ki gaand se sata ker ek jor ka jhatka mara. Is jhatke ke saath hi lund gaand ke andar thoda ghus gaya. Idhar lund ka gaand mein ghusna tha udhar Komal ke muhn se ek jor ki cheekh nikli, "Aaahhhhhhh…. Uuuuiiiiiiiii maaaaaaaaa…." Tauji ne perwah nahi karte huye apne gand ko thoda uper utha kar ek jhatka aur maara toh lund adhe se jyada chala gaya. Komal tadaf rahi thi lekin Tauji kamar ko dhire-dhire hila ker chhote-chhopte jhatke dete rahe. Komal dard ke maare chilla rahi thi. Woh "aahhh… aaahhhhhh… Oooaaaa… ohhhh… iiisss" ki awaaz ke saath siski lene lagi. Is tarah ke awaj se Tauji ki umang toh jaise aur bhi badh rahi thi. Tauji ne ab kuchh der ke baad apne kamar ki speed ko badha diya. Unka lund andar bahar ho raha tha Komal ki gaand mein. Uski cheekhon ne Tauji ki mardangi ko aur jor marne ke liye uksa diya. Tauji Komal ke baal pakad kar apni kamar ke jhatko se apne lund ko uski gaand ke andar bahar kar rahe the. Udhar Komal aur jor ke saath "Aaahhhhh… Aaauuuu… Aaauuuaa… Ooohhhhh…" ki awaaz ke saath chilla rahi thi. Kuchh der ke baad maine dekha ki Tauji ka pura lund Komal ki gand mein ghus chuka tha. Ab Tauji jor jor se jhatke maar rahe the aur kuchh der ke baad woh Komal ke upar dher ho gaye. Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. Komal bhi shaant pad gayi toh main samajh gaya ki Tauji ne apna VIRYA Komal ki gaand mein chhod diya hai. Ab Tauji ne Komal ke top ko khol diya aur iske baad uski choli ko nikaal diya. Saare kapade utarne ke baad Tauji ne apne lund ko Komal ki gaand se nikaal liya aur uske upar se hut gaye. Ab Tauji bed se utar ker khade ho gaye aur Komal ko peshaab karne ke liye kaha. Komal Tauji ke saath peshaab karne ke liye gayi. Peshaab karne ke baad dono room me wapas aye. Ab Tauji bed per baith gaye aur Komal ke hath ko pakad ke apne lund ko pakda diya aur bole, "Abhi tum meri adhi aurat bani ho puri aurat banaunga tujhe. Lo yeh thandha pad gaya hai ise garam karo. Ise apne muhm mein le ke chuso."

 Komal ne Tauji ke lund ko apne hath me leke kuchh der tak dekhti rahi phir apne muhn mein leke chaatne aur choosne lagi. Kuchh der ke baad ab woh lund ko apne muhn ke andar bahar karne lagi. Idhar Tauji ko apna lund chuswaane mein bada maza aa raha tha. Woh Komal ka sir pakad kar lund ki chusaai ki speed badha rahe the. Kuchh der ke baad Tauji ne Komal ke muhn se lund ko baahar nikal liya aur use letne ke liye bola. Woh bed par let gayi. Tauji Komal ki choot ko kuchh der tak dekhte rahe aur phir dabbe se tel nikal ke pahle Komal ki choot ko tel se puri tarah se bheego diya. Phir apne lund ko, jo ki lagbhag saat se aath inch ka lamba tha, bhi dabbe me dal diya. Dabbe se nikalne ke baad Tauji ne apne lund ko Komal ki choot par rakh ke use phailane ke liye bola. Komal ne apni choot ko phaila diya. Tauji ne ek halke se jhatke ke sath lund ke supaare ko Komal ki choot ke darwaaze per tikaya aur halka jhatka diya. Komal thodi kasmasai. Tauji ne hlka shot mara. Iss halke shot se Tauji ka lund Komal ki choot mein entry maarne mein safal huye. Ab jaise hi apne lund ko thoda aur andar karne ke liye ek jor ka jhatka mara to Komal puri tarah se sihar uthi. Tauji ne kaha, "Daro nahi. Pahle thoda dard hoga baad mein bahut maja ayega." Lekin isme hi Komal ki halat kharab ho rahi thi. meri chacheri behan ki kunwari choot dard ke maare bilbila uthi. Jis choot mein aaj tak uski angooli bhi nahin gayi hogi shayad uss choot mein ek moosal lund jayega to bechari ki yeh halat honi hi thi. Ab Tauji ne apne dono hathon mein tel le kar Komal ke dono mummo per tel ki maalish shuru kar di. Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. Isse Komal ko thodi rahat mili. Uske medium size ke mummo ko dekh Tauji shurur mrin aa gaye. Apne dono hathon se uske mummo ki kas-kas kar maalish karne lage. Gore mummo ko dekh Tauzi apne hathon ko jaldi-jaldi chala rahe the. Uske gore-gore mummey ab gulabi rang lene lage. Tauji se ab raha nahi jaa raha tha inn KACHHI KERIYON ko dekh kar. Tauji ne ab apne hath hata kar dono mummo ko apne muhn mein leke bari-bari se choosna shuru kar diya. Kuchh der tak aisa karne ke baad maine dekha ki Komal ne apne pair ko dheela kar diya aur apni jangho ko phaila diya. Komal ko bhi apni chuchiyan chuswaane mein maza aa raha tha. Yeh dekh Tauji ne apni kamar ko dhire-dhire hilana shuru kar diya. Inn dhakkon ne uska dard phir badha diya.

Jo maza use chuchiyan chuswaane mein aa raha tha uski jagah dard hone laga. Aur yeh dard ho raha tha uski choot mein. Tauji ka lund Komal ki choot ke andar halanki abhi pura nahi gaya tha lekin jitna bhi gaya tha woh Komal ke liye bahut tha. Moosal lund uski choot mein ekdum tight phansa hua tha. Tauji halke-halke jhatke maar rahe the. Komal ke muhn se dard bhari siskariyan nikalne lagi, "Ahhh… Aaahhhhh… Aiiiii… Uuuuiiiii… Aaaaauuuuuuu…." Tauji ne uski dardili siskarian sun kar wapas jhatke dene band kar diye aur uske mummo ko halki varjish dene lage. Uske mummo ko maslna shuru kar diya. Uski chuchiyon ko apni angoolion ke beech daal kar dabana shuru kar diya. Isse Komal phir rahat milni shuru ho gayi. Komal ko rahat milte dekh Tauji ne apna lund chacheri behan ki choot ke andar thoda aur ghusaya. Komal phir kahrai. Iss baar Tauji ne uske mummo ko masalna jaari rakha. Ab Tauji besabra ho rahe the. Unhone Komal se kaha, "Ab main tumhe apni sachi aurat banane ja raha hoon. Ab mera lund teri choot ke andar jaa kar teri puri gahrai naapega aur teri andar waali deewar ko touch karega. Tab tum meri poori aurat ban jaaogi." Yeh kah kar Tauji ne apne lund ko thoda bahar nikala aur apne daant kaste huye ek karara jhatka maara. Lund dandanata hua Komal ki choot ke andar poora ghus gaya. Choot aur Lund ke beech koi jagah nahi bachi. Dono ki jhaant eek doosre se mix ho gayi. Lekin iss jhatke ne Komal ki to jaise jaan hi nikaal di. Woh, "Ahhhhh…. Iiiiiisssssssss… Aaaauuuu… Baaaapp reee … Maar daala… Nikaalo…. Are mar gayi main…. Ohhhh…" ki awaaj ke sath chilla uthi. Uski cheekh sun kar Tauji thode ruke phir apne hothon se uske hotho ko daba diya aur chusne lage. Isse Komal ki cheekh kewal "mmmmm" ban kar hi nikal rahi thi. Tauji ne dhakke lagane shuru kar diye. Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. Komal hath pair uchhal kar apna virodh jaari rakha. Tauji ko iski parwaah kahan thi. Woh toh apni masti mein Komal ki bagair chudi choot ko chod rahe the. Unka lund Komal ki choot ke andar bahar ho raha tha. Unke hoth Komal Komal ke hothon ko choos rahe the. Unke hath Komal ke gore-gore makhmali mummo ko masal rahe the. Dhakke badhte jaa rahe the.

Tauji apne gand utha-utha kar dhakke diye jaa rahe the. Kuchh der ke baad Komal ki awaaz niklni kam ho gayi. Tauji ne uske hoto ko azad karte huye bole, "Aab tum meri puri tarah se aurat ban gayi ho. Aaj bade dino kebaad koyi jawan aur kuwari ladki ki choot mili hai." Isske sath hi Komal ki chudaai chalu thi. Tauji jor jor ke jhatke maar rahe the. Kabhi kabhi to Komal apne hath ko apni choot ke paas le jaane ki koshish karti lekin Tauji uske hath ko waha se kheench lete. Ab Komal halki siski ke saath apni chudaai ka maza le rahi thi. Kuchh der ke baad Tauji ne Komal ke hotho ko choosna phir shuru kar diya toh main samajh gaya ki iss baar unka VIRYA Komal ki choot mein girne jaa raha hai. Ab Komal bhi Tauji ka saath de rahi thi. Tauji ke jhatke jor-jor ke the lekin seedhe nahi pad rahe the. Lag raha tha ki Tauji apna maal Komal ki choot mein gira rahe hai. Tauji ki saansein ukhadne lagi thi. Ab Tauji saant ad gaye aur Komal ke upar dher ho gaye. Kuchh der yuhi pade rahne ke baad jab Taujine ne apna lund Komal ki choot se bahar nikala to maine dekha ki Komal ki komal choot buri tarah se sooj gayi hai. Uski choot per uske kunwaare pan ki nishani uska blood laga hua tha. Iss khoon ke saath hi Tauji ka sperm bhi mila hua tha. Lund ke bahar niklte hi Komal uth ker Tauji ke saath bahar naali ke paas gayi aur Tauji ne uski choot par pani giraya aur Komal ne apni choot ko dhoke saaf kiya. Iske baad apne kapade ko pahan ker jab neeche jane lagi to Tauji ne kaha, "Ye baat kisi ko batana nahi." Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. Komal boli, "Theek hai," aur neeche chali gayi. Tauji apne room mein jaake so gaye. Main bhi apne room mein so gaya. Subah main jab jagaa to Tauji ko tayyar hote dekha. Maine jab unse puchha to wo bole ki woh apne gaon jaa rahe hai. Phir woh apne gaon ke liye nikal gaye. kaisi lagi chachi aur chacheri behan ki chudai ki story ... ascha lage to share karo .. agar kisine meri chachi aur chacheri behan ki pyasi choot ki chudai karna chahte ho to add karo Facebook.com/KomalSharma

Saale ki sexy biwi sarla ki chudai

Dosto aaj jo hindi chudai ki kahaniyan batane jaa raha hu wo meri saale ki biwi ki chudai ki hai.. aaj main bataunga kaise meri saale ki biwi ko choda, kaise saale ki biwi ko nanga karke choot ko chata, saale ki biwi ki mast boobs ko chusa, kaise saale ki biwi ko kuttiya bana ke choda, kaise saale ki biwi ki gand mari, kaise saale ki biwi ki ras bhari choot ko choda, kaise chod chod ke saale ki biwi ki choot faad di.Mera naam Samir.Sundar ladki ko dekhkar mujhe accha lagta hai. Chodne ki icchha ho jaati hai. Man karta hai uske narm narm gaalon ko choon loon aur uske hothon ko choos loon. Apni baahon mein bharkar uski chuchiyon ko dabaa doon aur apne lund ko uske bur mein daal kar chod daaloon. Shaadiyon ke din the aur shaadi ka maahaul tha. Mere teesre chhote sale ki shaadi thi aur humlog sasural mein ikattha hue.

saale ki biwi ki chudai
Saale ki sexy biwi sarla ki chudai
Kaafi log hone ki vajah se har kamre mein kai logon ka intezam tha. Meri salej yaani pehle sale ki biwi ka naam tha Sarla. Gehua rang, bhara hua badan, 34 26 34 ke aankre jaisa, gadrayee jawani aur gazab ki sundar. Iccha karti ki daboch kar bas chaba hi daloon. Ithlati hui jab chalti apni saari ko saamne haath se choot ke paas sambhalti hui tab man karta ki bas iski garam choot ko kyon na main hi pakad loon aur masalta rahoon. Saari se voh apni mast aur tanee hui chuchiyon ko bharsak dhakti rehti lekin voh bagal se blouse ke madhyam dikhta rehta. Jhuki hui nigahon se dekhti aur muskara deti. Hamara lauda aur khada ho jaata. Shaam ke kareeb 4 baje the aur main uski taraf dekhe jaa raha tha.Tabhi khilkhilati hui boli, “Kyon Jeejaji, kya chahiye ?” Mere muh se nikal pada, “Tum.” Chaunk kar boli, “Kya kaha ?” Maine jawab diya, “Mera matlab tumhare haath ki ek cup chai.”Chai peekar jaise taise shaam gujri aur raat hui. Ek kamre mein upar palang par mardon ko sone ke liye kaha gaya aur theek niche zameen par aurton ke liye gadde lagaye gaye. Kismat dekhiye palang ke jis kinare par main tha, theek uske niche zameen par sabse pehle Sarla ka bistar tha. Aap ye kahani newhindisexstories.com paad rahe hai. Man mein badi gudgudi ho rahi thi. Lund tha ki uthe ja raha tha. Maine thaan liya ki bacchhu aaj na chookna. Bas mauka dekh kar pahal kar hi dena. Phir socha ki ek baar toh to lekar dekhoon. Maine Sarla se poocha, “Sarla, ye mera takeeya ekdum kinare mein kyon rakh diya. Palang par beech mein rakhti.” Voh boli, “Kyon aap karvat bahut jyada lete hain ?” Phir aahiste se boli, “Please aap mere upar mat gir jayeega.” Doston, uska yeh bolne ka andaz aisa tha ki koi bevkoof hi samajh na paye. Phir kya tha, maine chadar taani, lund haath mein liya, aur lete hue sabke sone ka intezar karne laga.

Aakhir raat kuch gujri aur thake hue sabhi log ek ek kar gehri neend mein so gaye sivay mere aur Sarla ke jo ki main jaanta tha. Himmat juta kar main aahista se upar palang ke kinare se utar kar niche zameen par Sarla ke bagal mein let gaya. Kamre mein pehle se hi andhera tha. Maine pehle uski chadar aahista se thodi si apne upar le li aur apne badan ko usse sataya mano keh raha hoon ki main aa gaya. Voh chupchaap rahi aur meri himmat badhi.Maine apna haath ab dheere se uske kamar par rakha aur uski naram lekin garm garm nightie par sarkaate hue uski chuchi par rakh diya. Voh kuch nahi boli. Maine ab uski chuchi ko dabaya. Voh shaant rahi. Aur main madhosh hone laga. Lund khushi ke mare phadphadane laga. Lund ko maine uski gaand se chipka diya. Aur haath se doosri chuchi ko dabane laga. Chahat badhi aur maine apne haathon se uski nightie ko upar uthaya. Ab mera haath uske badan par tha. Haath ko upar late hue aur uske narm narm badan ka maza lete hue maine uski nangi chuchiyon ko chooa. Gol aur ekdum sakht. Narm lekin garam. Nipple ko dabaya aur kaskas kar ab main chuchiyon ko daba raha tha. Hothon se main uske gardan ko choomne laga. Ab lund chodne ke liye betaab hua ja raha tha. Aakhir kab tak sehta. Koi aawaz bhi nahi kar sakte the.Ek haath maine uski gardan ke niche se ghusakar uski tani hui chuchi par rakha aur doosra haath maine saale ki biwi ko nanga ek haath choot par rakh diya. Aap ye kahani newhindisexstories.com paad rahe hai. Choot par ghane baal the lekin phir bhi ekdum gili thi. Yaani chudwane ke liye taiyar. Lund to bur mein ghusne ke liye betaab tha hi. Maine apni ungli saale ki biwi ki bur ke daraar ko choote hue andar ghusa di. Usne ek aah si bhari. Voh bhi chudwane ko ekdum taiyar thi.Uske kaan ke paas muh le jaakar maine fusfusakar kaha, “Main bathroom Ja raha hoon, tum thodi der baad dheere se aa jao jaaneman.” Aahista se uthkar dabdabe pao se main bathroom ke andar ghus gaya aur darwaza halka sa khula rakh intezar karne laga. Paanch minute baad Sarla aayee aur jaise hi andar ghusi maine darwaza band kar chitkani laga di.

Ab kya tha. Mano sahansheelta ka baandh bas toot gaya. Maine kas kar use apni bahon mein bhara aur apne hoth uske dhadhakte hothon par rakh zor zor se choosne laga. Kya hoth the. Jaise gulab ki pankhdiyan. Aisa taste ki bas nasha aa gaya. Ek haath se maine uske baal pakad rakhe the choomte hue aur doosre haath se main uski chuchiyon ko nightie ke upar se hi masal raha tha. Mera lund pajama ke andar ekdum khara hua pareshaan ho raha tha. Excitement hone ke baad kapda bahut bure lagta hain. Nanga badan hi acchha lagta hai. Maine turant apne pajame ka naada khol use hataya. Underwear nikal phenka. Teeshirt utar nanga ho gaya.Uski nightie ke button ko saamne se kholna shuru kiya. Jaldi se uske badan se nightie nikali, bra ke hook ko piche se khola, aur choomte hue dabate hue, kas kas kar ek doosre ko masalte hue pehle besabri se uski nangi aazad chuchiyon ko haath mein le liya. Sakht bhi thi aur naram bhi thi. Garam bhi thi aur tight gol gol bhi thi. Kya kahoon bas gazab ki chuchiyan thi. Dabao to chitak chitak jaye. Lekin bahut bahut maza aaye. Gehri gulabi rang ki nipples ke charo taraf brown rang ka golnuma rose. Sugandh jo uske sharer se aa rahi thi, aur bhi madhosh kiye ja rahi thi. Sex ka sugandh bola nahi ja sakta. Bas enjoy kiya ja sakta hai. Aap ye kahani newhindisexstories.com paad rahe hai. Voh ab bhi poori tarah se nangi nahi thi. Nylon ka tight underwear uske bur ko chupaye hue tha. Use jab hatay to Sarla kaafi shrma gayee aur apna muh meri chhati mein chupa liya. Mera lamba aur fadfadata hua lund uske badan ko choot ke aas paas choota ja raha tha. Maine uske thodi ko haathon se uthaya apni aankhon ki taraf. Usne apni aankhen band kar li.Maine use palkon ke upar chooma. Deewar ke sahare apne lund ko uski choot ke against dabaya. Uske hothon ko choosa aur choosta hi raha. Uski nangi gol gol mulayam garam sakht sexy chuchiyon ko khoob dabaya aur masla. Aakhir raha nahi gaya aur uski chuchi ko nipple sahit apne muh mein bhar liya.

Uski dahini chuchi masalte hue, uski left chuchi ko main taste le kar choos raha tha. Mujhse aur raha nahi gaya. Maine maza lene ke liye usse poocha, “Sarla raani, tum itne din tak kaha chupi thi ? Chod doon ?” Usne ek haath se meri peeth ko apni taraf daba rakha tha aur doosre haath se mere lund ko apne mulayam haathon se pakadkar boli, “Jeejaji, jo bhi karna hai, jaldi se kijiye.” Maine kaha, “Kya karoon ? Bolo na, jaan. Tum to ekdum malai ho malai.” Usne jhat se jawab diya, “Kha jayeeye na.” “Kya kya khaaon raani. Tum badi mast cheez ho yaar.” Usne shararati baton ka maza lete hue kaha, “Jeejaji jaldi se ghusa dijiye na.” Maine aur maza lete hue uske kaan ke paas fusfusakar kaha, “Kya ghusaaon aur kahan.” Boli, “Dhat, aap bahut badmaash hain. Main ja rahee hoon.”Maine kas kar pakad to rakha hi tha. Inhi baton mein hum ek doosre ke badan se lipat lipat kar pata nahi kya kya kar rahe the. Bas kuch na kuch pakda pakdi masla masli choosa choosi chal rahi thi. Aakhir maine kaha, “Raani, ek baar kehna padega. Sirf ek baar. Please.” Poochne lagi, “Kya kahoon jeeju ?” Maine maza lete hue kaha, “keh do ki mere bur mein lund daal kar chod dijiye na.” Aap ye kahani newhindisexstories.com paad rahe hai. Usne sharmmane ke andaz se kaha, “Chodiye na, jeeju. Aur mat tadpaiye.” Maine bhi dekha ki ab jyada der karne mein risk hai. Maine apna lund uske bur ke daraar par ragadte hue ek dhakka lagaya. Lund andar ghus to gaya lekin maza nahi aaya. Chudai ka maza tabhi hai jab aurat ko lita kar choda jaaye. Bathroom ke farsh par maine Sarla ko litaya aur uske upar chadh gaya. Tangon ko failakar apna lund uake bur par rakha aur ghusaya. Usne bhi thodi si mada ki aur apne bur se mere lund ko samet liya. Hoth chooste hue, chuchiyon ko dabate hue maine chodna shuru kiya. Voh bhi niche se gaand utha utha kar chudwane lagi.Kya cheez banai hai upar waale ne yeh chudai. Bahut bahut maza aata hai. Jisne chudai ki hai use yeh padhkar mehsoos ho raha hoga ki hum dono kitna swaad le rahe honge chudai ka.

Beech beech mein chodte hue, uski chuchi ko choos bhi raha tha. Chudai lambi rakhne ke liye maine speed medium hi rakhi. Chuchi chooste hue aur bhi kam. Aakhir mein lund Ne jab signal diya ki ab main jahdne vaala hoon, tab maine kas kas kar chudai ki. Chodta raha, chodta raha, strokes pe strokes lagata raha. Aur voh uchal uchal kar chudwai ja rahi thi. Aisa anand aa raha tha ki maloom hi nahi pada ki hum dono kab ek saath jhad gaye. Jaldi se humne kapde pehne aur bahar nikalne ke pehle maine Sarla ko kas kar apni bahon mein jakda aur choomte hue kaha, Aap ye kahani newhindisexstories.com paad rahe hai. “Salej Sahiba, vada karo jab bhi mauka milega to chudwaogi.” “Aap bahu paaji hai” keh kar voh dabe pao chali gayee.dosto kaisi lagi meri saale ki biwi ki chudai ki kahani .. ascha lage to share karo .. agar kisine meri saale ki biwi ki mast gand ki chudai karna chahte ho to add karo Facebook.com/SarlaSharma

Dost ki sister ki mast chudai

Friends.. aaj jo hindi chudai ki kahani batane jaa raha hu wo meri dost ki behan ki chudai ki hai.. aaj main bataunga kaise dost ki sister ko choda, kaise dost ki behan ko nanga karke choda, kaise dost ki choti behan ki choot chata, kaise dost ki sister ki boobs chusa, kaise ghodi bana ke choda, kaise dost ki behan ki choot ki seal toda, kaise dost ki behan ko chod chod ke pregnant bana diya.Ek din main aur mera dost mohan study kar rahey they mere ghar par...main padai me hamesha usse aage rehta tha aur hamesha mujhse hi padta tha to 1 din mohan mujhse kehne laga ki yaar tu sab cheej me ustad hai padai me to bahut hi accha hai aur padai me meri help bhi karta hai yaar tu mera 1 kaam karega kya maine usse pucha ki kya kaam hai..to usne kaha ki yaar tu sapna ko bhi help kar de padai me.sapna jo uski choti behan ka naam tha

sister ki chudai
Dost ki sister ki mast chudai
jo uske saath kiraye ke makan me rehti thi maine kaha ki yaar jaise teri choti behan vaise hi meri choti behan .main use pada doonga to agla din select hua ki hum uske ghar me padenge to raat ko thik 8 baje main uske ghar pahuch gaya uski choti behan monu ne darwaja khola aur mujhse pucha ki aap kaun hai to main use bataya ki main mohan ka dost hoon aur aaj hum log aapke ghar hi padenge to usne muje andar aane ke liye kaha aur main jakar sofe par bhait gaya par waha par mujhe mohan nahi dikhai diya.to maine usse pucha ki mohan kahan hai to usne bataya ki wo kahi gaye hai abhi aate honge to maine usse phone karke pucha ki bhai tu kaha hai to usne mujhse kaha ki bhai use aane me thodi der ho jayegi aur wo monu ko padana start kar de aur main 1-2 ghante me aa jaonga...to main uske kehne ke baad monu se kaha ki main actually tumhe padane aaya hoon ...to wo apni book le kar mere saath sofe par bhait gayi aur maine use padana suru kar diya....Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. tabhi achanak padate padte mera dhayan uske boobs par chala gaya .but pehli hi najar me dil ne keh diya ki ab to iske saath suhagraat banai hai...kya gajab ki breast thi uski .aur andar bra bhinahi thi....kya moti moti chuchiya thi uski...bus ab to mann me aa hichuka tha ki aaj to suhag raat manani hai chahe kuch bhih o jaye.Tabhi maine dobara mohan ko phone kiya ki bhai tu kaha hai aur kab tak aayega to mohan ne jawab diya ki yaar aaj raat sayad na aa pao.tu bahi wahi par so jana aur subah chale jaana aur usne apni behan se bhi yahi keh diya phir kya meri to samjho jaise lottery lag gai....

padane ke baad main monu se idhar udhar ki baaten karne lag gaya .maine usse pucha ki tumhara koi bf nahi hai kya to usne kaha ki koi usse dosti hi nahi karta kyoki sab dost kehte hai ki tu kuchnahi jaanti to maine kaha to isme kya hai wo sab kuch tumhe main sikha doonga agar tumhe koi problem na ho to to wo turant maan gayi.....tab main usse kaha ki pehle to wo kapde utare.to wo thoda gabra gayi.tab maine use samjhaya to wo maan gayi...phir kya tha maine dost ki sister ki boobs ko dabana suru kar diya....aur phir uske lips par kiss start ki aur maine phir uski penty me haath de diya aur phir wo siskiya bharne lagi tab main samjh gaya ki wo garam ho chuki hai ab daalne ka maja hai phir maine usse pucha ki kuch ho raha hai to usne kaha ki haan mujhe nasha ho raha hai...tab main use lund mooh me lene ke liye kaha aur usse yeh bhi kaha ki nasha isse kam ho jayega haaye kya maja aa rha tha use bhi aur mujhe to bus.Uske baad maine dost ki sister ki chut ko sehlaana suru kiya aur phir kya tha meri supada bhi bus teyyar tha. Bus phir maine intezaar kiye bina uski chut me lund de hi diya aur wo itni jor se chillayi ki bus mujhe to laga ki wo marr gayi lekin phir baad me use bhi maja aata raha auraaram se wo oohhh karti hui sab kuch karvati rahi jo main chahta tha uske baad hum bathroom me 1 saath nahane gaye Aap ye kahani newhindisexstories.com paad paad rahe hai. phir waha bhi yahi prograame chala aur phir saari raat yehi prggreame chalta raha aaj bhi mere usse contact hai bus ab to samjh lo wo meri permanent na hone wali wife hai.dosto kaisi lagi meri dost ki sister ki chudai ki story,, acha lage to share karo .. agar kisine meri dost ki behan ki gand me chudai karna chahte ho to add karo Facebook.com/KarishmaSharma

16 साल की कांची कुमारी लड़की को चोदने की सच्ची कहानी

हेलो दोस्तों, आज जो कुमारी लड़की को चोदने की कहानी बताने जा रहा हू वो 16 साल की कुमारी लड़की की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे 16 साल की कांची कुमारी लड़की को चोदा , कैसे 16 साल की कुमारी लड़की को नंगा करके चोदा,16 साल की कुमारी लड़की की बूब्स चूसा,कैसे 16 साल की कुमारी की चूत चाटी, कैसे कांची कुमारी लड़की को घोड़ी बना के चोदा, कैसे 8 इंच का लण्ड से 16 साल की कुमारी लड़की की चूत मारी, 16 साल की कुमारी लड़की की गांड मारी , कैसे कांची कुमारी लड़की की चूचियों को चूसा और खड़े खड़े 16 साल की लड़की को चोदा , कैसे 16 साल की कुंवारी चूत को ठोका

16 साल की कुमारी लड़की की चुदाई
16 साल की कांची कुमारी लड़की को चोदने की सच्ची कहानी
आज आपको पहली चुदाई का अनुभव पता होगा, जब आपने पहली बार चुदाई की होगी, वो दृश्य भी अभी भी ताजा होगा, कोई भी पुरुष को आज भी तमन्ना रहती है की काश! मुझे आज कोई अठारह साल की लड़की से सेक्स सम्बन्ध बने, इंसान हमेशा फ्रेश जवानी को भोगना चाहता है, आप शायद मेरी बातों से वाकिफ होंगे. मैं आपको एक ऐसे ही कहानी से अवगत कराऊंगा जिसमे फुल मजा है, चुदाई का, आज आप फिर से अपने दिमाग को तरोताजा कर सकते है, ये कहानी एक ऐसी लड़की की है जो पहली बार चुद रही थी, मैं अपना और उसका भी एक्सपीरियंस आपको शेयर कर रहा हु, मेरा नाम कुशाग्र है, एक प्रतिष्ठित कोचिंग में पढ़ाता हु, मेरी उम्र 35 है, मैं दिल्ली में रहता हु, ये कहानी जो है वो है एक लड़की जिसका नाम है स्नेहा, स्नेह बहुत ही खूबसूरत और पढ़ने में काफी तेज है, वो आज तक सारे क्लास में फर्स्ट करते आई है, और अपने लेवल के कई सारे एग्जाम में भी उसका बहुत अच्छा मार्क्स है, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। उसका एम है वैज्ञानिक बनना, मैं किसी को भी टूशन नहीं देता है, कोई की मेरे पास टाइम नहीं होता है, पर मेरे पड़ोस में रहने बाली एक भाभी है, वो मुझसे रिक्वेस्ट की कि आप प्लीज मेरी बेटी को पढ़ा दे, मैंने कहा मैं टूशन नहीं लेता, पर वो एक हेल्प के नाते ही बोली कि आपको ये काम करना पड़ेगा, प्लीज मना मत कीजिये, और मैंने कहा ठीक है मैं सिर्फ संडे को ही एक क्लास दे पाउँगा, वो लोग बहुत ही ज्यादा खुश हुए.

मेरी शादी हो चुकी है, घर में मेरी वाइफ भी होती है, पर वो स्कूल जाती है वो भी टीचर है, एक दिन कि बात है, संडे का दिन था, घर पर मेरी वाइफ नहीं थी, वो अपने मायके गई थी, और वो लड़की उस दिन स्कर्ट पहन कर आई और पुछि कि आंटी नहीं है, तो मैंने कह दिया कि वो बाहर गई, उस दिन पढाई काम बल्कि उससे उसके पर्सनल लाइफ के बारे में पूछना सुरु कर दिया था मैंने, वो भी बड़ी ही बेबाकी से मेरे सबाल का जवाब दे रही थी, तो पता चला कि जब भी कभी उस्स्को किसी से अट्रैक्शन हुआ है तभी उसके मार्क्स ख़राब हो गए, वो उसने कहा कि सर आज कल मेरे मन में अलग अलग ख्याल आते है, मेरी कुछ सहेलियां है जो कि अभी अभी ही सेक्स कि है और वो कहती है यार एक बार कर के देख मजा आ जायेगा, पर मैं किसी और के चक्कर में नहीं पड़ना चाहती हु, मेरा फोकस है, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। सिर्फ आई आई टी, और मैं उसको क्रैक करना चाहती हु, और अपने परिवार का नाम रौशन करना चाहती हु,पर कई बार मैं पढाई नहीं कर पाती हु, कई बार मेरा ध्यान भटक जाता है, और लगता है कि मेरा भी कोई दोस्त हो जो मुझे केयर करे किश करे और एवं मुझे सेक्स भी करे, पर मैं करना भी चाहती हु और इसमें पढ़ना भी नहीं चाहती हु, वो मुझसे काफी खुल गई थी, मैं खुद भी नहीं चाहता था कि उस लकड़ी को मैं कुछ करूँ या तो इस पर आगे बधु पर वो खुद ही बोल पड़ी, सर एक काम करो, आप मेरे से प्यार करो, मैं आपसे सेक्स करना चाहती हु, ताकि मैं और कही दूसरे जगह ध्यान नहीं लगाऊ,

मेरी पढाई भी ठीक चले और मैं बाहर कही बहकु भी नहीं. मैं समझ गया वो लड़की बहुत ही होशियार है, मैंने कहा अगर ये बात किसी को पता चल गया तो, तो वो बोली देखिये आपपर कोई शक भी नहीं करेगा, आपकी पत्नी भी नहीं ना तो मेरी माँ.अब मैं भी उसके झांसे में आ गया, और मैंने उसके परपोसल को मान लिया, मैंने उसके करीब बुलाया वो आगे, मैंने उसके गाल पर पहले एक किश किया और फिर होठ पे, वो भी अब मेरे होठ को चूमने लगी, मैंने कुमारी लड़की की चूचियों को दबाने लगा, छोटी छोटी चूची थी पर बहुत ही गजब का शेप में, बीच में उसके निप्पल गजब के लग रहे थे मटर के दाने कि तरह, मैंने उसके सारे कपडे उतार दिए, और उसको चुमेंट लगा, 16 साल की कांची कुमारी लड़की की चूत पर हाथ लगाया तो चूत पानी पानी हो चूका था, मैंने ऊँगली से उसके कुमारी चूत के छेद को महसूस करने कि कोशिश कि पर पता नहीं चला, फिर मैंने उसको लिटा दिया और दोनों पैर उठा कर, उसके चूत को थोड़ा चिर कर देखा, अंदर छेद नहीं दिख रहे था फिर मैंने उसके गांड के छेद के थोड़ा ऊपर अंदर ऊँगली डाली तो हलकी सी चली गई, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। वो आआह कर गई और बोली प्लीज ऊँगली निकाल लो.फिर मैंने उसके होठ को चूसने लगा, वो बोली सर प्रोमिस करो कि आप ये बात किसी को नहीं बताओगे, मैंने कहा यार तुम भी किसी को नहीं बताना, फिर क्या था, मैंने उसके चूत पे लंड रखा और घुसाने लगा, वो मुझे हाथ से धक्के दे रही थी निकालो निकालो जलन हो रही है,

जलन हो रही है, मैंने फिर अपना लंड उसके चूत से निकाल लिया जो अभी गया ही नहीं था, वो कहने लगी सर दर्द हो रहा है, चलो दूसरे दिन करते है, मैंने कहा बार बार ये मौक़ा नहीं आएगा, आज ही काम कर लेते है फिर अपने पढाई पर ध्यान लगाना, वो फिर तैयार हो गई, मैंने फिर से अपने लंड में थूक लगाया और फिर से कोशिश कि, पर मेरे लंड बहुत मोटा था और उसके चूत का छेद बहुत ही छोटा अंदर जा ही नहीं रहा था, पहिर मैंने दो तीन तरीके से लंड को चूत में घुसाने कि कोसिस कि पर कामयाब नहीं हो पाया,लंड तो चूत के अंदर जा नहीं रहा था, पर उसके आँख से आंसू जरूर निकल गए, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैंने उसके चूच को सहलाया और उसको बीएड पे लिटा के रखा और तकिया उसके गांड पे लगाया, मैंने बेड से निचे हो गया फिर मैंने उसके पैर को ऊपर कर के बीच में लंड रख के धक्क्का देने लगा, अब मेरा लंड करीब ३ इंच अंदर चला गया पर उसके आँख से आंसू निकलने लगे, और वो इतना ही कह रही थी कि बस करो, बहुत दर्द और जलन हो रहा है, लगता है मेरी चूत अभी इस लायक नहीं है, पर मैंने उसको समझाया कि पहली बार चुदने में थोड़ा दर्द होता है, और फिर वो चुप हो गई, मेरा लंड कांची कुमारी चूत में करीब तीन इंच था, अब मैंने अपने पुरे शरीर का भार उसके चूत पे दे दिया, लंड अंदर दाखिल हो गया, वो सिर्फ यही कह रही थी कि बहुत दर्द हो रहा है, मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रही हु, मैंने थोड़ा अपने लंड को निकाला और फिर से अंदर डाला इस बार ऐसा लगा कि चूत के परदे को फाड़ते हुए,

लंड अंदर चला गया, फिर मैंने वही ट्रिक अपनाया और फिर थोड़ा निकाला और फिर जोर से दिया अब पूरा लंड उसके चूत में चला गया था, आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है, फिर मैंने उसके चूच को दोनों हाथ से पकड़ा और अब रेगुलर लंड को अंदर बाहर करने लगा, मैंने पूछा क्या अब भी दर्द कर रहा है तो वो बोली काम हो गया है, मैंने पूछा मजा आ रहा है तो बोली हां अब अच्छा लग रहा है, करीब २० मिनट तक चोदा और फिर मैंने लंड को बाहर निकाल कर बाथरूम में स्पर्म को फ्लश कर दिया.उसके बाद वो उठी और बोली कि दर्द के बाद एक बहुत अच्छा शुकुन मिला है, मुझे काफी अच्छा लगा, और वो उस दिन चली गई, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर हम दोनों काफी क्लोज आ गए, और रोज रोज तो नहीं पर जब भी मौक़ा मिलता हम दोनों चुदाई करते,कैसी लगी 16 साल की कुमारी लड़की की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई 16 साल की कुमारी की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/KanchiKumari

जालिम भाई ने मुझे बेरहमी से चोदा

हेलो दोस्तों, आज जो भाई और बहन की चुदाई कहानी बताने जा रही हु वो मेरी भाई से चुदाई की कहानी हैं । आज मैं बताउंगी कैसे भाई से चुदवाई,  कैसे भाई से चूत चटवाई, कैसे भाई से गांड मरवाई, कैसे भाई ने मुझे नंगा करके चोदा, कैसे भाई ने मेरी चूत और गांड दोनों को मारा, कैसे भाई ने मेरी चूत को चाटा, भाई ने मेरी चूचियों को चूसा और कैसे भाई ने मेरी चूत फाड़ दी । मेरा नाम सिमरन है, मैं 18 साल की हु, मुझे, व्हाट्सप्प और फेसबुक बहुत ही अच्छा लगता है, मेरे कई सारे फ्रेंड्स है, पर मैं कभी भी किसी के साथ चोदा चोदी नहीं की, मेरी कई सहेलियां है जो की आज तीन साल से चुदवा रही है अपने बॉय फ्रेंड के साथ, वो अपनी कहानी बताती है, और मैं सुनकर ही मजे लेती थी, मैं अपने चूत में ऊँगली डाल कर दे बार चेक की की छेद कितना बड़ा है पर मेरी चूत की छेद बहुत ही छोटी थी

कुंवारी बहन की चुदाई
जालिम भाई ने मुझे बेरहमी से चोदा
उसमे एक ऊँगली भी नहीं जा सकती, तो मैं यही सोच कर डर जाती थी की कही मेरा चूत फट ना जाये क्यों की मैंने इंटरनेट के लंड की कई सारे फोटो देखि, और नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे भी पढ़ी, की लंड बहुत मोटा और लंबा होता है, कोई कहता है मेरा ८ इंच का है कोई कहता है की ९ इंच का है, मैं तो सोच कर ही डर जाती हु, जिस चूत में एक छोटी सी ऊँगली नहीं जा सकती उसमे भला इतना मोटा सा लंड कैसे जायेगा,अब मैं आपको पूरी कहानी सुनती हु, एक दिन मम्मी और पापा हरिद्वार गए, घर में मैं और मेरा भाई जो की २१ साल है, रात को हम दोनों लूडो खेल रहे थे, मैं थोड़ी ढीली ढाली टी शर्ट पहनी हुई टी, वो ऊपर से मेरी चूचियाँ दिख रही थी, इस वजह से भैया हमेशा मेरी चूचियों को घूर रहा था, मैं पहले समझ नहीं पाई जब मैं नोटिस किया की वो खेल पे कम ध्यान लगा रहा है तब मैंने उसको देखा की वो तो मेरी चूचियों को घूर रहा था, मेरी नजर उसके पेंट पे पड़ी तो देखि भाई का लंड खड़ा था, और वो थोड़े थोड़े देर बाद वो लंड को दबा दे रहा था, मैं समझ गई की भाई की नियत आज ठीक नहीं है, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मुझे लगा की मैं भी तो आजकल ऊँगली डाल डाल के काम चला रही हु, तब मैं भी थोड़ा अपना टी शर्ट का गला और निचे कर दी, अब मेरी चूचियाँ और भी बड़ी बड़ी और बाहर हो गई, अब क्या बताऊँ दोस्तों मेरा भाई बोला बाउ.मैंने कहा क्या कह रहे हो भैया? तो बोला कुछ भी नहीं बस यू ही, मैं तो समझ गई, मेरे भाई बोला की सिमरन तुम्हे कब्बडी खेलने आता है,

तो मैं समझ गई वो क्या कहना चाह रहा है, और इस कबड्डी के बहाने वो क्या करेगा, पर मैंने भी मूड में थी, सोची की चलो आज कबड्डी खेल ही लेते है, ड्राइंग रूम में ही कब्बडी खेलने लगे, इधर से मैंने कबड्डी कबड्डी कबड्डी कबड्डी करते हुए जाती और उसको छूने की कोशिश करती, पर वो पीछे हो जाता और जैसे मैं वापस आने के लिए करती वो मुझे पीछे से पकड़ लेता, वो भी मेरी दोनों हाथो से मेरी चूचियों को और फिर मैं कबड्डी कबड्डी करते रहती और वो अपना लंड मेरे गांड में सटाये रखता, उसका मोटा लंड मेरे चूतड़ के बीचो बीच पड़ता.उसको बाद जब उसकी बारी आती वो आता और छू कर भागता नहीं बल्कि वो लेट जाता और कबड्डी कबड्डी कबड्डी कबड्डी कबड्डी बोलते ही रहता उस बीच में मैं भी उससे खूब मजे ले लेती वो मेरी चूचियों पे हाथ फेरता मेरी गांड को भी सहलाता और मैं भी कहा कम भी, मैं जान बुझ कर कर अपना शरीर उसके लंड से रगड़ती.सच पूछिये तो ये आधा घंटा का खेल मेरी चूत को पानी पानी कर दिया, और मैंने भी उसके लंड को कडा कर दी, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तभी पापा का फ़ोन आ गया वो पूछने लगे की खाना खाई की नहीं, हम दोनों ने कहा पापा जी हम दोनों अभी खा लेते है, और फिर हम दोनों खाना खाके सोने चले गए.सोये तो अपने अपने बेड पे पर घर में कहा से एक बिल्ली आ गई, किचन में और वो रोने लगी, मुझे बहुत डर लग गया, मैं भाग के भाई के कमरे में गई तो देखि भाई,

लैपटॉप पे सनी लेओनी की मूवी देख रहा था और अपने लंड को हाथ में लेके जोर जोर से हिला रहा था, मैं पड़े के पीछे थोड़ी हो गई, पहले तो थोड़े देर तक मैं भी मूवी देखि साइड से ही फिर मैं उसके लंड को निहारी, मैं तो हिल गई दोस्तों मैं सोची आज कुछ हो जाए आज तो मैं अपना सील तोड़वा के ही रहूंगी, और फिर मैं सामने चली गई, मेरा भाई अवाक् रह गया, वो कुछ भी नहीं बोल पा रहा था, और इतना हड़बड़ा गया की वो लैपटॉप तक लो वैसे ही छोड़ दिया, और बोला सॉरी, मैंने कहा सॉरी की क्या बात है, मैं समझ सकती हु, मेरे भाई को कोई गर्ल फ्रेंड नहीं है, वो कुछ तो करेगा ही,वो थोड़ा सा हँसा और बोला मेरी बहन होशियार हो गई है, और जवान भी हो गई है, मैं शर्मा के नजर थोड़ी निचे कर ली, झूठ मूठ का अंदर से लग रहा था की उसका लंड अपने मुह में ले के आइस क्रीम की तरह चाभ जाऊं. भाई ने कहा यहाँ क्यों आई अभी, तो फिर मैंने बताया मुझे काफी डर लग रहा है, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। घर में बिल्ली आ गई है, तो मैंने कहा मैं नहीं सोउंगी अकेली, तो भाई बोला क्या तू मेरे साथ सोयेगी, तो मैंने हां कर दी बोली की मम्मी पापा भी घर पे नहीं है, सो ही जायेंगे तो क्या पता चलेगा किसी को, वो खुश हो गया और मैं वही सो गई, फिर मैं पूछने लगी, की आप क्यों हिला रहे थे, तो वो कहने लगा, की आज मैं काफी ज्यादा सेक्सी हो गया हु, तेरे साथ कब्बडी खेल के, मैं हस्त्मैथुन कर रहा था, तो मैं पूछी क्यों तो वो बोला ताकि मैं अपने स्पर्म को बाहर कर सकूँ,

मुझे काफी अच्छा लगने लगा ये सब बात सुनने में, और फिर उसने अपना लंड मेरे हाथ में पकड़ा दिया, मैं हिलाने लगी, पर मुझे लाइट में शर्म आ रही तो तो मैंने कहा लाइट पहले बंद करो, लाइट बंद कर होने के बाद, मैं अपने भाई का लंड मुह में ले ली और चूसने लगी, इस बीच में भाई मेरा सार कपडा उतार दिया, और मेरी चूची को दबाने लगा, मैंने काफी जोश में आ गई, करीब ३० मिनट तक हम दोनों एक दूसरे को छेड़ते रहे, और फिर आ गया टाइम चुदने का, वो अपना मोटा लंड मेरे चूत पे रखा और जोर जोर से धक्का देने लगा, मैं तो दर्द से कराह रही थी, फिर वो धीरे धीरे कर के घुसा दिया, और फिर झटके देने लगा, मैंने कहा भैया धीरे धीरे करो, चूत में जलन हो रही है, प्लीज धीरे धीरे चोदो.फिर क्या बताऊँ दोस्तों रात भर मेरा भाई ने  मुझे चोदा, मैं भी खूब मजे ली, पहले तो दर्द हो रहा था फिर थोड़े देर बाद तो मैं रंडी हो गई, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैं खुद कह रही थी, जोर जोर से चोदो, क्या कर रहे हो, ठोको मुझे ठोको, क्या कर रहे हो यार भगवान बात नहीं दिया है क्या, मेरी चूचियों को मसलो, रात भर यही सब चलता रहा, और खूब चुदी अपने भाई से, माँ पापा के एब्सेंट में, कैसी लगी हम डॉनो भाई और बहन की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी टाइट चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो अब जोड़ना Facebook.com/SimranKumari

चुदक्कड़ आंटी की चुदाई

हेलो दोस्तों, आज जो हिंदी चुदाई की कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी आंटी की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे आंटी को चोदा होटल में, कैसे आंटी को नंगा करके चोदा,आंटी की बूब्स चूसा,कैसे आंटी की चूत चाटी, कैसे आंटी को घोड़ी बना के चोदा, कैसे 8 इंच का लण्ड से आंटी की चूत मारी,  आंटी की गांड मारी , कैसे आंटी की चूचियों को चूसा और खड़े खड़े आंटी को चोदा । कैसे मेरी आंटी की चूत को ठोका । हमारे घर के बगल मे ही एक आंटी रहती है उसका फिगर कमाल का है जो एक बार देख ले उसे बार बार चोदने का मन करे पर वो आंटी किसी से ज्यदा बात नही करती पर मेरे को वो दोस्त की तरह मानती है एक दिन की बात है मै उसके घर गया

आंटी की चुदाई
चुदक्कड़ आंटी की चुदाई 
तो वो कमरे मे बैठ के रो रही थी तो मै पुछा की रुपा (उसका नाम रुपा है जेसा नाम वेसा रूप ) आंटी क्या हुआ क्यू रो रही हो वो बोली कुछ नही बस तेरे अंकल की याद आ रही है इसलिए तू बता तू केसा है मै बोल ठीक हू कुछ मजा नही आ रहा है आज कल मै पूछा अंकल आपको प्यार नही करते क्या वो बोली ये तू क्या पुछ रहा है मै डरते हुए बोला बस ऐसेही पुछ रहा था वो बोली पुछ ले, मेने पूछा की अंकल तो काम के चक्कर मे महीनो बाहर रहते है तो आप बोर होती होंगी ना वो बोली नही तू है ना इसे बोलते हुए वो रोने लगी और मेरा हाथ पकड़ कि बोली आकाश तेरे अंकल मेरे को ज्यादा प्यार नही करतेे है मै एकदम से अचम्भित होगया और बोला की आप तो इतनी सुंदर हो की आपको तु आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मै भी आंटी तु भी क्या मै बोला कुछ नही उसको पता चल गया की मै भी उसको चोदना चाहता हू और वो बोली की मै जानती हू की तू मेरेको चोदना चाहता है और तेरी कोई g f भी नही है और वो बोली आकाश क्या तू तेरी आंटी की वासना सांत नही करेगा मै थोड़ा डर के बोला अगर अंकल को पता चला तो वो बोली ये ले एक केसेट इसमे तेरे अंकल ने किसी लड़की को चोदा था उसका विडिओ और अगर उसको पता चला तो तु बोलना की तू उसका विडिओ नेट मे डाल देगा अब मत डर तू उसके इतना बोलते ही मेने उसको लिप टु लिप किस करना चालू किया और 30 मिनट तक हमने एक दूसरे को चूमा और फ़िर वो बोली की मेरे कपडे निकालो

मेने पहले आंटी के ब्लाउज को खोल फ़िर आंटी की पेटिकोट निकाल के फेक दी फ़िर मेने आंटी के ब्रा और पेंटि निकाल फेकि और आंटी ने भी मेरा सब कुछ निकल दिया और मै आंटी के बुब्स कु दबाने लगा तु वो आह्ह्ह्ह्ह स्श्ह्ह्ह्हहम्ह्ह्ह्ह्ह्दा मादरचोद जोर से दबा तेरी मा की इसे गाली देने लगी तु मेने जोर सि दबाना चालू किया 10मे बुब्स की मा चोद दी मेने और वो लाल हो गया फ़िर आंटी ने मेरा लौड़े को मुह मे भर कि चूसने लगी ये सब मेरा पहली बार था बहुट मजा आ रहा था और मै आंटी के चूत के बिच में अपने जीभ घुसा दिया था क्या स्वाद था यार कभी नही भुल सकता उस स्वाद को.फ़िर हम 69 के पोजिसोन मे थे अब वो बोली अब सहा नही जाता आकाश अब घुसा दे मै भाइ कमिना था बोला घर जा रह हू मा खोजेगि फ़िर मै उठा तु वो बोली अरे मेरी प्यास बुझा कि तु जा मै बोला नही वो मेरेको 2000 रुपय दी और बोली अब तु चोद. तो मै बोला बस इसका तो इन्तजार था मेरे को और मै उसको लिटा के उसके बुब्स को पिया फ़िर उसके कि उपर अपना लौड़ा रखा और धीरे से एक धक्का दिया आधा लंड अंदर गया वो चीखनेलगी निकाल मादरचोद, मै एक बार और धक्का मारा लंड पुरा अंदर चला गया फ़िर मै चोद्ने लगा और वो भी साथ देने लगी फ़िर मेने उसे बोल अरे रंडी साली मेने तेरा विडिओ बनाया है ताकि तू बर बार मेरेको चोद्ने दे वो बोली मै वेसे भी अब तेरी हू जान फ़िर मै बोला मेरा माल निकल रहा है आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। वो बोली अंदर ही निकल दे फ़िर हम दोनो एक साथ लस्स्स हु ग्ये फिर तब से आज तक मै उस रंडी को राज चोद्ता हू और वो हर चुदाइ के मेरेको 1-2 ह्जार देती रहती है . कैसी लगी आंटी की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी आंटी की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/RupaSharma

दामाद के मोटा काला लंड से मेरी चुदाई की कहानी

हेलो फ्रेंड्स, आज जो दामाद और सास की चुदाई कहानी बताने जा रही हु वो मेरी दामाद से चुदाई की कहानी हैं । आज मैं बताउंगी कैसे दामाद से चुदवाई,  कैसे दामाद से चूत चटवाई, कैसे दामाद से दूध पिलाई, कैसे दामाद से गांड मरवाई,  कैसे दामाद ने मुझे नंगा करके चोदा, कैसे दामाद ने मेरी चूत और गांड दोनों को मारा, कैसे दामाद ने मेरी चूत को चाटा, दामाद ने मेरी चूचियों को चूसा और कैसे दामाद ने मेरी चूत फाड़ दी । मैं नीतू डोगरा, मैं चालीस साल की हु, मेरी एक बेटी है संध्या डोगरा, वो बीस साल की है, उसकी शादी को अभी ६ मैंने ही हुए है, मैं पहले आपको अपने बारे में बताती हु, मैंने अपने पति से तलाक ले लिया है, क्यों की वो किसी और औरत के साथ सेक्स सम्बन्ध थे, मेरा अपना फ्लैट है दिल्ली में, मैं एक मीडिया हाउस में जॉब भी करती हु, और मेरी बेटी मॉडलिंग करती है, शादी भी उसने अपने ही बॉस से की है, एकलौता बेटा है, उसके माँ और पापा दोनों बंगलुरु में रहते है.

दामाद और सास की चुदाई
दामाद के मोटा काला लंड से मेरी चुदाई की कहानी 
आपको पता है की मेरी बेटी मॉडलिंग करती है, मॉडल तो वही होता है वो देखने में काफी सुन्दर हो, शरीर अच्छा हो, फिगर मेंटेन हो, जब किसी लड़की को ऐसा होगा तो आपको पता ही है लड़के मरते है, आज कल तो लड़के तो सुन्दर लड़कियां चाहिए, और प्यार व्यार तो कइयों से होता है, ये नया ज़माना है, हाथ पकडे नहीं की हाथ तुरंत ही ब्रा या पेंटी के अंदर चला जाता है, क्यों? सही कह रही हु ना? आपने भी कइयों से यही किया होगा, ज़रा सा बात हुई की होठ पे किश कर लिया या तो चूच दबा दी, और थोड़ा मौक़ा मिला तो पेंटी में हाथ डाल के चूत का माप ले लिया, की झांट है की नहीं, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। गीली हुई की नहीं है ना सही बात.तो ऐसा ही हुआ जब संध्या का बर्थडे था, पहले तो वो लोग बाहर ही बर्थडे मना के आये, मुझे ले नहीं गए, मुझे भी लगा की चलो दोस्तों के साथ ही मनाने देते है, फिर जब वापस रात को करीब १० बजे आई तो उसका बॉयफ्रेंड भी उसके साथ था, फिर रात काफी हो गई थी, तो मैंने अपने बेटी के बॉयफ्रेंड को कह दी बेटा कल तो संडे है, आज रात यही रूक जाओ, और ना ना करते करते और मेरी बेटी की जिद के चलते वो रूक गया, मेरा कमरा अलग है बेटी का कमरा अलग है उसके बाद, एक गेस्ट रूम है वही पे उसको कह दिया गया रहने के लिए, पर वो वह कहा रहेगा, देर रात तक खुसुर फुसुर करता रहा, मेरी नींद लग गई, जब उठी वो भी एक चीख पे वो चीख संध्या की थी,

आआअह आआआह आआआह खून निकल रहा है, आआआह आआआअह आआआअह मर गई, मैंने दौड़कर झांककर देखि तो संध्या के कमरे में रोहित था, संध्या निचे थी और रोहित अपना मोटा लंड बेटी के चूत में डाल रखा और और चूचियों को सहला रहा था, अब मैं क्या करती, चुपचाप रही, संध्या बोल रही थी, तुमने जोर से धक्का दे दिया मेरी चूत फट गई, फिर वो धीरे धीरे से चोदने और चुदवाने लगे, मैं काफी देर तर देखि, और मैं वापस अपने बेड पे आ गई, गीली चूत लेकर, करीब पूरी रात मेरी कानो में, चुदाई की बात गूँज रही थी, मैं काफी परेशान थी, की संध्या ने शादी के पहले सेक्स क्यों किया, सुबह हुई मैंने दोनों के लिए नाश्ता बनाई, और फिर मैंने दोनों को ड्राइंग रूम में बुलाकर बोली, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। की तुमलोग रात को हद से ज्यादा बढ़ गए हो, अब क्या होगा, रोहित तुम्हे पता है, मैं अकेली औरत हु, अगर एक बार बदनामी हो गई तो मैं कही की नहीं रहूंगी, और रोने लगी, तो रोहित आया और मुझे गले से लगा लिया, और बोला माँ जी आप चिंता क्यों करती हो, मैं संध्या से शादी के लिए तैयार हु,सच पूछिये तो मेरे ख़ुशी का ठिकाना ना रहा, मैंने रोहित को धन्यवाद बोली माथे पे चुमी, और मैंने कहा बेटा तू मेरी इज्जत रख ले, और लड़का अच्छा निकला, पंद्रह दिन के अंदर ही कोट मैरिज हो गया, रोहित मेरे घर पे रहने लगा, मेरा अपना मकान है, और रहने बाले कोई नहीं, रोहित और संध्या दोनों हनीमून के लिए गोवा गए,

चार दिन के लिए, मैं इन चार दिन में उस रात की सारी बातों को दुहराते रही, क्यों की रोहित का गठीला बदन और मोटा लंड मुझे काफी आकर्षित कर दिया था, मैं अब बार बार उसकी के बारे में सोचने लगी, फिर क्या बताऊँ दोस्तों, एक बार एक फैशन शो में संध्या को शहर से बाहर जाना पड़ा, और रोहित को बुखार लगा था, संध्या सुबह से चली गई, दोपहर को डॉक्टर को दिखवाकर लाइ, शाम होते होते रोहित का बुखार उत्तर गया, मैं शाम को अपने बैडरूम में कपडे चेंज कर रही थी, और दरवाजा खुला था, रोहित कब आ गया पता ही नहीं चला, उस समय मैं नंगी थी, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। बाल में मेरे ब्रा का हुक उलझ जाने की वजह से मैं निकाल रही थी, रोहित जैसे ही मुझे देखा वो खड़ा का खड़ा ही रह गया, पर मैंने जल्दी जल्दी करने लगी और भी ज्यादा मेरा बाल उलझ गया, मैं आउच की तो रोहित तुरंत मेरे पास आकर, मेरा ब्रा मेरे बाल से निकाल दिया, पर वो मेरे सामने ही खड़ा मेरे बदन को निहार रहा था, मैं जैसे ही उससे नजर मिलाई, आँख निचे हुई ही नहीं, क्यों की वो खुद ही तौलिया पहन कर था, और हम दोनों एक दूसरे को कब गले लगा लिए पता ही नहीं चला, मेरे होठ रोहित के होठ को छूने लगे, और दामाद का हाथ मेरी चूचियों को मसलने लगा,फिर क्या था बेड पे हम दोनों कभी इसके ऊपर कभी वो मेरे ऊपर, फिर मैं अपनी पैर फैला दी और दामाद ने मेरे चूत में लंड डाल दिया,

मैं बहुत दिनों से लंड की प्यासी थी, मैंने दामाद से खूब चुदवाई, और वो भी कामसूत्र के सारे पोज़ का इस्तेमाल कर दिया, उसके बाद तो दोस्तों आज ४ महीने हो गया है, संध्या तो मॉडलिंग कर रही है, पर मैं रोहित के बच्चे की माँ बनने बाली हु, वो भी साढ़े तीन महीना का, अब मैं इसका सलूशन धुंध रही हु, की क्या करूँ, अगर ये बात मेरी बेटी को पता चलेगा तो क्या होगा, अब रोहित संध्या से ज्यादा मुझमे ही इंटरेस्ट ले रहा है, वो कहता है की आप मेरे बच्चे को जन्म दो, मैं संध्या को मना लूंगा, पर मैं सोचती हु की कही मैं संध्या की ज़िंदगी बर्वाद तो नहीं कर रही हु, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। प्लीज मुझे बताये,कैसी लगी हम डॉनो दामाद और सास की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी लंड की प्यासी चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो अब जोड़ना Facebook.com/NeetuDogra

Chudai,chudai kahani,sex kahani,sex story,xxx story,hindi animal sex story,

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter