Hindi urdu sex story & चुदाई की कहानी

New hindi sex stories, pakistani hot urdu sex stories, chudai kahani, chudai ki xxx story, desi xxx animal sex stories, चुदाई की कहानियाँ, hindi sex kahani, सेक्स कहानियाँ, xxx kahani, चुदाई कहानी, desi xxx chudai, xxx stories sister brother sex in hindi, mom & son sex story in hindi, kamuk kahani, kamasutra kahani, hindi adult story with desi xxx hot pics

नौकरानी की चुदाई मदद के बहाने

नौकरानी की चुदाई कहानी, Naukrani ki chudai, हिंदी सेक्स कहानी, Chudai Kahani, 30 साल की सेक्सी नौकरानी की चुदाई Hindi Sex Stories, नौकरानी को चोदा Hindi Story, नौकरानी की प्यास बुझाई Sex Kahani, नौकरानी ने मुझसे चुदवाया, Naukrani ki chudai story, नौकरानी के साथ चुदाई की कहानी, Naukrani ko choda xxx hindi story, नौकरानी के साथ सेक्स की कहानी, नौकरानी ने मेरा लंड चूसा, नौकरानी को नंगा करके चोदा, नौकरानी की चूचियों को चूसा, नौकरानी की चूत चाटी, नौकरानी को घोड़ी बना के चोदा, 8″ का लंड से नौकरानी की चूत फाड़ी, नौकरानी की गांड मारी, खड़े खड़े नौकरानी को चोदा, नौकरानी की चूत को ठोका,

दोस्तों, आज जो नौकरानी की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी नौकरानी और उसकी बेटी की चुदाई की हैं .दोनों गजब की माल थी, मजा आ गया माँ और बेटी को चोदने के बाद,मेरे फ्लैट में काम करने के लिए एक औरत आती है कुसुम जो की 39 साल की है, पर वो एकदम मस्त माल और जवान लगती है, उसका बदन काफी भरा पूरा है, गजब की सुन्दर है. पर झाड़ू पोछा का काम करना इसलिए पड़ रहा है क्यों की उसका हस्बैंड अब चल फिर नहीं सकता उसका एक्सीडेंट हो गया है, बहुत ही अच्छी औरत है,

कुसुम कल सुबह जैसे ही काम करने आई, वो बड़ी ही सुन्दर लग रही थी, मैंने पूछा क्या बात है कुसुम आज तुम बड़ी अच्छी लग रही हो तो बोली, हां हो सकता है कल कवाचौथ था इस वजह से मैंने फैसला ब्लीच मेहंदी लगबै थी, बाल भी ठीक कराया था, क्या करे साल भर का पर्व है इसलिए अपने आप को एक दिन तो ठीक कर लेती हु, हम लोग रोज रोज कैसे कर सकते है अपने आप को ठीक ब्यूटी पारलर में, बहुत पैसा लगता है भैया, गरीब आदमी तो सुन्दर होते हुए भी सुन्दर नहीं लग पता है सिर्फ अपने गरीबी की वजह से,दोस्तों ये कहानी आप निऊहिंदीसेक्सस्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। वाकई में कुसुम बहुत ही सुन्दर लग रही थी, साड़ी भी लाल लाल और हाफ स्लेव का ब्लाउज उसकी चूचियाँ बहुत टाइट और उभर गजब का लग रहा था, साड़ी उसकी पारदर्शी थी इसवजह से उसका नाभि और पेट साफ़ साफ़ दिख रहा था, मैं तो बस उसके पेट को ही निहार रहा था, फिर वो झाड़ू लगाने लगी, वो ब्लाउज भी ऊपर से ज्यादा कटा हुआ पहनी थी इस वजह से नौकरानी की  चूचियाँ भी साफ़ साफ़ दिखने लगी, जब वो झुक रही थी क़यामत ढा रही थी, मैं तो उसकी इस रूप को देखकर हैरान परेशान था, मैं ही नहीं बल्कि मेरे लण्ड भी नमस्कार करने लगा था.

तभी कुसुम भोली भैया जी मेरा पति अब कमाता नहीं है, मेरे काम करने से ही घर चलता है, आज मुझे ४ हज़ार रूपये की जरूरत पड़ गयी है, क्या आप मेरी मदद करोगे, मैंने कहा मदद तो कर देता पर मुझे अपनी गर्ल फ्रेंड को देना है, तो कुसुम ने कहा आप मुझे ही दे दो, तो मैंने कहा उसको देता हु तो मजे देती है, तो कुसुम बोली मैं भी मजा दे दूंगी, और अपने साडी के कोने से मुह को दबाते हुए मुस्कुराने लगी, मेरा दिमाग ठनक गया और धड़कन तेज हो गयी, क्यों की मैं झूठ बोला था आज तक मैंने किसी भी लड़की को छुआ तक नहीं हु इस नजर से, अब तो शेर के सामने बकरी थी,दोस्तों ये कहानी आप निऊहिंदीसेक्सस्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।मैंने कहा ठीक है मैंने अपना अलमीरा खोला और चार हज़ार रूपये दे दिए, वो बीएड पे बैठ गयी, बोली कैसा मजा चाहिए, मैंने कहा तुम बड़ी ही खूबसूरत हो, आज तो और भी खूबसूरत लग रही हो, तो बोली मेरा पति तो आज कल मेरे तरफ देखता भी नहीं है वो काफी कमजोर सा हो गया है, आप मेरी मदद थोड़े दिन तक कर दो मैं भी आपको किसी चीज की कमी नहीं रखूगी, फिर वो मेरे तरफ झुकी और मैंने उसके तरफ, दोनों के होठ आपस में मिल गए, और फिर कब मेरा हाथ नौकरानी की चूच को दबाने लगा पता ही नहीं चला मैं ब्लाउज के ऊपर से उसके चूच को दबा रहा था वो अपना ब्लाउज का हुक खोल के अपना चूच बाहर निकाल दी, गजब का बड़ा बड़ा टाइट टाइट चूच था, मैं पहली बार किसी को चूच को दबाया था, फिर उसने अपने चूच को मेरे मुह में डालने लगी, मैंने भी आराम से उसके चूच को अपने मुह में ले के निप्पल को पिने लगा.दोस्तों ये कहानी आप निऊहिंदीसेक्सस्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर नौकरानीने बेड पे लेट गयी, और मैंने उसके पेटीकोट को ऊपर कर दिया, गोल गोल जांघे, मैंने ऊपर से निचे तक सहलाया फिर नौकरानी की पेंटी को खोल दिया, काले काले बाल बूर के आस पास था, मैंने टांगो की अलग अलग कर के नौकरानी की बूर का मुआयना किया बीच में एक दरार सी थी मैंने अपने हाथ से अलग किया लाल लाल चूत पहली बार देखा मेरी धड़कन तेज हो गयी, मैं अपने आप को संभल नहीं पाया और नौकरानी की चूत को अपने जीभ से चाटने लगा, पर कुसुम बहुत सेक्सी थी, बोली लण्ड को क्या हुआ डालो ना, पागल कर दोगे क्या, फिर मैं अपने लण्ड को उसके बूर के ऊपर रख के धक्का मार तो छटक गया, फिर वो खुद ही मेरे लण्ड को पकड़ के अपने चूत के ऊपर लगाई, मैंने धक्का दिया मेरा लण्ड स्लो मोशन में उसके बूर में दाखिल हो गया, उसके मुह से आवाज आई हाईई हाय मैं मर गई, हाय हाय,दोस्तों ये कहानी आप निऊहिंदीसेक्सस्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर क्या था मैं धका धक करके लण्ड को उसके चूत में पेलने लगा, वो बस मोअन कर रही थी और अपने हाथ से वो खुद ही अपनी चूचियों को दबा रही थी, मैं झटके पे झटके दे रहा था, वो भी गांड उठा उठा के चढ़वा रही थी, मैंने उसको चोदते रहा और वो भी चुद्वाते रही, फिर वो झड़ गयी और मैं भी एक गहरी सांस लेते हुए सारा माल नौकरानी की चूत में डाल दिया, फिर वो मुझे प्यार से चुमी और बोली कैसा लगा, मैंने कहा बहुत अच्छा लगा, फिर वो सारा काम करके चली गयी, कैसी लगी नौकरानी की चुदाई कहानियाँ , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी नौकरानी की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/PoojaMishra

The Author

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानियाँ

Hindi urdu sex story & चुदाई की कहानी © 2018 Frontier Theme