Hindi urdu sex story & चुदाई की कहानी

New hindi sex stories, pakistani hot urdu sex stories, chudai kahani, chudai ki xxx story, desi xxx animal sex stories, चुदाई की कहानियाँ, hindi sex kahani, सेक्स कहानियाँ, xxx kahani, चुदाई कहानी, desi xxx chudai, xxx stories sister brother sex in hindi, mom & son sex story in hindi, kamuk kahani, kamasutra kahani, hindi adult story with desi xxx hot pics

मामी को चोदने की कहानी – चोद चोद कर मामी को प्रेग्नेंट किया

Mami ko pregnant kiya चुदाई कहानी & हिंदी सेक्स स्टोरी, Mami ki chudai, मामी की चूत चुदाई Hindi sex kahani, 30 साल की सेक्सी मामी की चुदाई hindi story, मामी की चुदाई hindi sex story, मामी को चोदा sex story, मामी की प्यास बुझाई xxx kamuk kahani, मामी ने मुझसे चुदवाया, mami ki chudai story, मामी के साथ चुदाई की कहानी, mami ko choda xxx hindi story, मामी के साथ सेक्स की कहानी, मामी ने मेरा लंड चूसा, मामी को नंगा करके चोदा,मामी की चूचियों को चूसा, मामी की चूत चाटी, मामी को घोड़ी बना के चोदा, 8″ का लंड से मामी की चूत फाड़ी, मामी की गांड मारी, खड़े खड़े मामी को चोदा, मामी की चूत को ठोका,

ये एक सच्ची सेक्स कहानी है, पर डर है, क्यों की मामी दो महीने की पेट से है वो भी मेरी वजह से, मैं मामी को चोद चोद कर गर्भवती कर दिया जो मां ६ साल में नहीं कर पाए, आज मैं आपको अपनी ये पूरी कहानी बता रहा हु, ये सब कैसे हुआ, मैं अपने मामी को खूब चोदा, और अभी तक चोद रहा हु.मेरा नाम आकाश है, मैं बचपन से ही नानी घर में रहता हु, अभी तो मैं १८ साल का हु, मेरे मामा तीस साल के है वो मेरे से १२ साल बड़े है, जब मामा की शादी हुई थी तब मैं १२ साल था, उस समय मुझे सेक्स के बारे में ज्यादा तो नहीं पर थोड़ा थोड़ा पता था, मैं कई बार मां को चोदते देखा था, पर उस समय मेरे लण्ड में सिर्फ सिहरन होता था मैं काफी मूठ मारता था पर कुछ भी नहीं निकलता था, पर एहसास गजब का लगता था, मैं बाथरूम में मामी को नंगे नहाते देखा, की हॉल से, गजब की थी वो मजा आ जाता था देख कर,
जिस दिन मैं अपने मामी को नहाते देख लेता था क्या बताऊँ दोस्तों दिन रात मेरे मन में गलत गलत ख्याल आते रहता था, उसके बाद दिन निकलता गया, मैं जवानी की दहलीज पे पंहुचा अब तो मूठ मारने के बाद तो मेरा वीर्य पिचकारी के तरह निकलने लगा, मामी के बारे में सोच सोच कर मैं रोज मूठ मारता,मां जी के शादी के कई साल बीत गए तब भी उनको कोई संतान नहीं हुआ, मामी वैसे कुंवारी लड़की की तरह ही दिखती थी, मेरा तो रोम रोम और लण्ड खड़ा हो जाता था उनको देख कर, मामी से मैं काफी नजदीकियां बननी शुरू कर दिया, वो भी मेरे से काफी बात शेयर करने लगी, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैं उनके अपने गर्ल फ्रेंड के बारे में भी बात करने लगा, वो भी काफी इंटरेस्ट से सुनती मेरी झूठी कहानी, क्यों की मेरी कोई भी गर्ल फ्रेंड नहीं है,मामा जी गुडगाँव के एक कंपनी में काम करते है, और उनके ऑफिस के तरफ से चार महीने के लिए अमेरिका जाना पड़ा, करीब १० दिन तक ममी काफी उदास रहने लगी, क्यों की वो दोनों एक दूसरे को बहुत प्यार करते है, मामी आज तक कभी भी मामा जी से अलग नहीं रही, मैंने उनको एक दिन कहा मामी जी चलिए मैं आपको आज माल घुमा के लाता हु, तो नानी भी बोलने लगी जा बहू जा घूम आ, थोड़ा मन बहल जायेगा, पर वो मना करने लगी, कहने लगी नहीं मम्मी जी मन नहीं कर रहा है, तभी नानी ने मामा को फ़ोन की की देखो बहू उदास रहती है, आकाश बोल रहा है की चलो माल घुमा के ले आता हु तो वो मना कर रही है कह रही है मुझे अभी जाने का मन नहीं कर रहा है, तभी मामा जी बोले जरा फ़ोन देना स्वाति को, स्वाति मेरी मामी का नाम है, मामी फ़ोन ली, और फिर बात करने लगी, पता नहीं क्या क्या बात हुई, पर जब वो फ़ोन रखी तो बोली सिर्फ माल ही नहीं घुमुंगी,

मूवी भी देखूंगी, मैं तो दंग रह गया, मुझे काफी ख़ुशी हुई क्यों की पहली बार मैं किसी लड़की के साथ मूवी देखने का मौका मिलने बाला था भले वो मेरे से बड़ी और मेरी मामी ही क्यों ना हो, वो कपडे चेंज करने चली गई, मैं भी उनका इंतज़ार करने लगा, जब वो आई मैं हैरान था, ब्लैक कलर का टी शर्ट और टाइट जीन्स गजब का लग रहा था उनकी कसी और तनी हुई चूचियाँ, जीन्स पीछे से तो मत पूछो दोस्तों, गांड की उभर गजब का था, मेरे मुंह से तो लार टपकने लगा.मामी बोली चलो मैं तैयार हु, मैंने अपना बाइक निकाला, और वो पीछे बैठ गई, वो मेरे कमर के चारो और हाथ लपेट के बैठ गई, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। पर उनकी चूचियाँ अभी भी मेरे पीठ को नहीं छु रहा था, पर मैंने जब जब ब्रेक लगाता उनकी दोनों बड़ी बड़ी चूचियाँ मेरे पीठ से चिापक जाती और मेरे लण्ड आगे खड़ा हो जता, वो मदहोश कर देने बाली डीओ लगा रखी थी, करीब आधे घंटे बाद ही हम दोनों मूवी हॉल पहुंच गए, मूवी देखि फिर हम दोनों पिज़्ज़ा हट में पिज़्ज़ा खाये, खूब मजे किये, और फिर रात के करीब ९ बजे के करीब घर पहुंच गए, जब घर गए तो पड़ोस की एक औरत बोली तुम्हारी नानी अपने मायके गई है कोई डेथ हो गया था इस वजह से वो बोल कर गई थी की कल आउंगी, तुम दोनों का फ़ोन नहीं लग रहा था इस वजह से वो चाभी मुझे देख कर गई और बोली की आते ही फ़ोन करने के लिए, मैंने तुरंत फ़ोन लगाया तो नानी कहने लगी, अरे तुम दोनों का फ़ोन नहीं लग रहा था, तो मैंने बता दिया की मेरा तो फ़ोन बंद था और मामी का फ़ोन का नेटवर्क नहीं आ रहा था सिनेमा हॉल में. तो बोली देख मैं कल आउंगी. तुम और बहू कहना खा लेना और मेरी चिंता नहीं करना,

क्या बताऊँ दोस्तों मुझे आखिर क्या चिंता होगी, मामी बाथरूम गई और उधर से नहा कर आई, मैं उनको देखते ही रह गया, वो बिना ब्रा के थी, नाइटी में उनकी चूचियाँ और निप्पल साफ़ साफ़ दिख रहा था, बड़ी बड़ी टाइट चुकी हिल रही थी, गजब की माल लग रही थी, मैं उनके चेहरे से नजर नहीं हटा पा रहा था तभी वो बोली ए हेलो कौन सी दुनिया में हो, मैं हड़बड़ा गया, और मेरे मुंह से निकल गया क्या लग रही हो मामी, वो बोली क्याआ?? मैंने कहा नहीं नहीं कुछ भी नहीं,आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।  वो बोली चलो बोलो क्या बोल मैं बुरा नहीं मानूंगी, तो मैंने कहा नहीं नहीं आपको बुरा लग जायेगा, वो बोली अब नहीं बोलोगे तो बुरा लगेगा, फिर मैंने कहा दिया आप का बूब्स बहौत हॉट लग रहा था मेरी नजर वही थी, तो मामी बोली बस इतनी सी बात, तो मैंने कहा आपके लिए इतनी सी बात है पर मेरे लिए तो ये बहौत बड़ी बात है, तो वो बोली क्यों गर्ल फ्रेंड का नहीं दबाते हो क्या, मैं अवाक् रह गया, मैंने कहा नहीं मामी आज तक मेरी कोई भी गर्ल फ्रेंड नहीं है मैं सिर्फ झूठ बोलता था, मामी बोली इतना दिन से तुम मुझे वेवकूफ बना रहे थे, मैंने कहा नहीं मैं वेवकूफ नहीं बल्कि मैं अपने आप को छुपा रहा था, मामी बोली चलो मैं बताउगी कैसे लड़की पटाते है, फिर क्या था वो एक्टिंग करने लगी, लड़की का और मैं उसको पटाने का, फिर क्या था पहली बार खेल खेल में ही मैंने खूब मेरी जान, आई लव यू, क्या हॉट हो, मैं तुमसे शादी करूँगा, यही सब खूब बोल, फिर क्या था, रात को करीब १२ बज गए थे, एक टाइम ऐसा आया की मैंने मामी को चूम लिया, तो मामी बोली ये गलत है, मैं तो तुम्हारी गर्ल फ्रेंड होने का नाटक कर रही थी, पर तुमने तो मुझे किश कर लिया, तो मैंने कहा मामी आज रात के लिए सिर्फ मेरी फ्रेंड बन जाओ, कल से मेरी मामी ही रहना,

मैंने ये सब बोल कर मामी को तैयार कर लिया, मामी बोली अगर ये बात आपके मामा को पता चलेगा तो क्या होगा पता है तुम्हे मैंने कहा उनको पता ही नहीं चलेगा. और फिर मामी मुझे हग कर ली.मैंने उनको चूमने लगा, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर धीरे धीरे चुकी दबाने लगा, वो भी कामुक हो गई, और मुझे कस के गले लगा लिया, फिर क्या था दोस्तों, मैंने उनके एक एक कपडे उतार दिए और बूब्स को मुंह में ले के चूसने लगा, वो मेरे बाल को सहलाने लगी, धीरे धीरे मैंने मामी की पेंटी भी उतार दी, और मामी को लिटा के जीभ से मामी की चूत को चाटने लगा, वो आह आह आह आह उफ़ उफ़ उफ़ उफ़ औच करने लगी, मैंने अपने मामी को काफी गरम कर दिया, वो फिर मुझे कहने लगी अब बर्दास्त नहीं हो रहा है, मुझे चोद दो फिर क्या था दोस्तों मैंने अपना वर्जिन लण्ड निकाला और चूत के ऊपर लण्ड को रख कर अंदर धकेलने लगा. पर अनाड़ी था, सही तरह से जा नहीं रहा था, मामी ने मेरे लण्ड खुद ही अपने चूत के छेद पे लगेगी और धक्का लगने को बोली, क्या बताऊँ दोस्तों, मस्त तरीके से मेरा लण्ड मामी के चूत में दाखिल हुआ, मजा गया, मेरे तो रोम रोम सिहर रहे थे, अंदर बाहर करने लगा, फिर पांच से दस मिनट में ही मामी बहुत ही कामुक हो गई , और मुझे गाली देने लगी, कह रही थी, चोद साले, चोद मुहे फाड़ दे मेरे चूत को, आज मैं तुम्हारी बीवी हु, जैसे मर्जी चोदो, चाहे तो तुम मेरे गांड भी मार सकते हो, ओह्ह्ह इतना सुनकर तो मैं और भी ज्यादा जोश में आ गया और चोदने लगा, जब मैं धक्के लगाता, फच फच की आवाज आ रही थी, कमरे में और हाय हाय की आवाज. एक बार दोनों झड़ गए और फिर से दोनों तैयार भी हो गए.

उसके बाद हम दोनों फिर से चोदने लगे. दुबारा आठ दस धक्को के बाद मेरा लंड उनकी चूत के अंदर चला गया। फिर मैंने उनको करीब एक घंटे तक लगातार चोदा वो भी खूब गांड उठा उठा के छुड़वाई और वो इस चुदाई के दौरान करीब चार पांच बार झड़ चुकी थी, उसके बाद फिर से मैंने उनको गांड मारने सुरु किया, वो कह रही थी गांड में दर्द होता है, पर मैं कहा मानने बाला, मैंने गांड भी मारी और अपने वीर्य को उनके चूतड़ पे ही फिर से डाल दिया, ही सो गया और फिर में दूसरी सुबह करीब दस बजे उठा और मामी को मैंने पत्नी जी कहकर उठाया और हम दोनों एक साथ नहाए उसके बाद मैंने कहा गर्ल फ्रेंड से अब शादी करने का टाइम आ गया और मैंने मामी की माँग भरी मंगलसूत्र पहनाया और फिर में बाहर से खाना ले आया तभी नानी का फ़ोन आ गया और बोली की मुझे दो दिन और लगेगा, हम दोनों को ख़ुशी का ठिकाना ना रहा , मैंने मामी को फिर से दिन में चोदने लगा, आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। और दो दिन तक तो हम दोनों एक दूसरे को खुश करते रहे.अब तो नानी वापस आ गई थी, तब भी चुदाई का सिलसिला जारी रहा, जब भी नानी नहाने जाती, एक बार चोद लेता, जब कभी नानी पार्क में घूमने जाती, तब भी मैं मामी को चोद लेता, इस तरह से दिन में कम से कम दो बार तो चोद ही लेता, अब क्या बताऊँ दोस्तों, मेरी मामी अब मेरे बच्चे का माँ बनने बाली है, मामा को अभी आने में, एक महीने और है, और मामी प्रेग्नेंट है, मुझे और मामी को समझ नहीं आ रहा है क्या किया जाये.कैसी लगी मामी की चुदाई कहानी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी मामी की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/RekhaSharma

The Author

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानियाँ

Hindi urdu sex story & चुदाई की कहानी © 2018 Frontier Theme